बोले शिक्षक- सांसदों और विधायकों का वेतन और पेंशन बंद हो, स्कूलों को पैकेज दे सरकार Saharanpur News

सहारनपुर में दस सूत्रीय मांगों को लेकर उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त विद्यालय शिक्षक संघ ने नारेबाजी कर धरना-प्रदर्शन किया।

सहारनपुर में उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त विद्यालय शिक्षक संघ के प्रदेशाध्यक्ष डा.अशोक मलिक के नेतृत्व में शिक्षकों ने धरना दिया। सांसदों-विधायकों की पेंशन और वेतन बंद कर स्कूलों को राहत पैकेज की मांग की। चेतावनी दी कि पैकेज न मिलने पर 16 अप्रैल से स्कूलों का संचालन शुरु कर देंगे।

Taruna TayalSat, 10 Apr 2021 06:44 PM (IST)

सहारनपुर, जेएनएन। दस सूत्रीय मांगों को लेकर उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त विद्यालय शिक्षक संघ ने नारेबाजी कर धरना-प्रदर्शन किया। उन्होंने सांसदों-विधायकों की पेंशन और वेतन बंद कर स्कूलों को राहत पैकेज देने की मांग की। चेतावनी दी कि आर्थिक पैकेज न मिलने पर 16 अप्रैल से स्कूलों का संचालन शुरु कर देंगे। बाद में जुलूस निकालकर जिला मुख्यालय पहुंचे संघ नेताओं ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा।

शनिवार को हकीकत नगर स्थित धरना स्थल पर संघ के प्रदेशाध्यक्ष डा.अशोक मलिक के नेतृत्व में शिक्षकों ने नारेबाजी कर धरना दिया। डा.मलिक ने कहा कि कोविड-19 के कारण स्कूल एक वर्ष से बंद पड़े हैं। सरकार द्वारा विभिन्न वर्गों को कई राहत पैकेज दिए गए लेकिन निजी स्कूल संचालकों को आजीविका चलाने के लिए कोई पैकेज नहीं दिया। उन्होंने सांसदों-विधायकों को दिए जाने वाले वेतन और पेंशन बंद करने और परिषदीय स्कूलों के अध्यापकों का आधा वेतन निजी स्कूलों को राहत पैकेज के रूप में दिया जाए। निजी स्कूल 90 प्रतिशत बच्चों को शिक्षा देने का काम कर रहे हैं। बालेश्वर त्यागी व समरीन फातमा का कहना था कि निजी स्कूल 25 प्रतिशत बच्चों को शिक्षा देने का काम कर रहे हैं, ऐसे में 25 प्रतिशत अध्यापकों को भी बेसिक शिक्षा परिषद के समान वेतन दिया जाना चाहिए। बाद में संघ पदाधिकारियों व शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट तक जुलूस निकाला। चेतावनी दी कि आर्थिक पैकेज न मिलने पर 16 अप्रैल से स्कूल खोल देंगे। प्रदेशाध्यक्ष डा.मलिक ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को संबोधित 10 सूत्रीय ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट एसके सोनी को सौंपा। प्रदर्शनकारियों में जिलाध्यक्ष केपी सिंह, अमजद अली, वजाहत, गयूर आलम, सरफराज खान, रजनीश त्यागी, अरविंद शर्मा, लोकेश वत्स, जितेंद्र गोरियान, शिव कुमार मालियान, प्रवीन गुप्ता, संजय रोहिला, दिनेश, सुभाषचंद, नरेश वर्मा, शीशपाल, ललित धीमान, बिजेंद्र प्रधान, भूप सिंह, विनोद, डा.अयाज, शशी राणा, दीक्षा गौतम, संजना, शिवानी, काजल, रेखा त्यागी, दीपा, ममता, प्रदीप, अशोक पंवार आदि थे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.