UP Budget 2021: मेरठ में सरधना के सलावा और कैली गांव की जमीन पर बनेगा खेल विश्वविद्यालय, बजट में मिले इतने करोड़

मेरठ के सरधना गांव में बनेगा खेल विश्‍वव‍िद्यालय।

UP Budget 2021 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की घोषणा के अनुरूप मेरठ में खेल विश्वविद्यालय के लिए बजट में 20 करोड़ का प्रावधान करने से मेरठ सहित पश्चिमी यूपी के लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई है ।

Taruna TayalMon, 22 Feb 2021 01:53 PM (IST)

मेरठ, जेएनएन। प्रदेश सरकार की ओर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की घोषणा के अनुरूप मेरठ में खेल विश्वविद्यालय के लिए बजट में 20 करोड़ का प्रावधान करने से मेरठ सहित पश्चिमी यूपी के लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई है। करीब तीन दशक से अधिक की यह मांग अब यहां के लोगों को पूरी होती दिखने लगी है। मेरठ में खेल विश्वविद्यालय बनाने के लिए सरधना क्षेत्र के सलावा एवं कैली गांव की जमीन को चिन्हित किया गया है। यहां पर खेल विश्वविद्यालय के लिए 92 एकड़ जमीन चिन्हित की गई है। जिसका प्रस्ताव प्रदेश सरकार को भेजा गया था। 92 एकड़ जमीन में कुछ हिस्सा कैली गांव का है जबकि अधिकतर जमीन सलावा गांव की ही है।

700 करोड़ रुपये का है प्रस्ताव

खेल विश्वविद्यालय के लिए 700 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट बना है। पीडब्ल्यूडी को निर्माण एजेंसी नामित किया गया है लेकिन अभी उसका एस्टीमेट बनाना बाकी है। करीब एक साल से खेल विश्वविद्यालय बनाने को लेकर शुरू हुई गतिविधियों के बाद सोमवार को बजट में 20 करोड़ आवंटित कर दिया गया। पिछले दिनों नोएडा के एक निजी स्पोर्ट्स स्टेडियम के उद्घाटन के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहली बार मेरठ में खेल विश्वविद्यालय बनाने की घोषणा खुले मंच पर की थी। इससे पहले ही खेल विश्वविद्यालय के जमीन चिन्हित कर प्रस्ताव मांग लिया गया था।

खेल विश्वविद्यालय को लेकर खूब चली खींचतान भी

मेरठ में खेल विश्वविद्यालय बनाए जाने को लेकर काफी खींचतान भी हुई। पिछले कुछ महीनों के दौरान मेरठ के अलावा अन्य जिलों से भी प्रस्ताव शासन को भेजे गए थे। इसमें मुजफ्फरनगर की ओर से भी जोरदार दावेदारी की गई थी। सभी प्रस्ताव पर गौर करने के बाद और मेरठ में खेल विश्वविद्यालय के महत्व को देखते हुए शासन ने मेरठ जिले को ही खेल विश्वविद्यालय के लिए अंतिम रूप से चुना। हालांकि जिस स्थान पर खेल विश्वविद्यालय बनाने का निर्णय लिया गया है, संसदीय क्षेत्र के लिहाज से वह मुजफ्फरनगर संसदीय क्षेत्र में आता है, जबकि जिला मेरठ ही पड़ता है।

UP Budget 2021: बजट में सहारनपुर और मुजफ्फनगर को तोहफा, शाकम्‍भरी व शुकतीर्थ स्‍थल का होगा विकास

मेरठ के खेल संगठनों व आम लोगों ने खूब चलाई मुहिम

मेरठ में खेल विश्वविद्यालय बनाए जाने को लेकर जिला एथलेटिक संघ की ओर से हस्ताक्षर अभियान, संदेश अभियान भी चलाए गए थे। इसमें बड़ी संख्या में खेल संगठनों, स्कूल, कॉलेजों व राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों ने अपना योगदान दिया और मेरठ में ही खेल विश्वविद्यालय बनाए जाने को लेकर अपना मत प्रकट किया। खेल संगठनों ने विभिन्न राजनेताओं सांसदों विधायकों के जरिए मुख्यमंत्री से भी मुलाकात की और मेरठ में खेल विश्वविद्यालय बनाए जाने के महत्व को सामने रखा। मेरठ के खेल उद्योग ने भी मेरठ में ही खेल विश्वविद्यालय बनाए जाने का पूरा समर्थन किया जिससे खेल उद्योग को भी इसका लाभ मिल सके और यूनिवर्सिटी को भी खेल उद्योग का सहयोग व समर्थन प्राप्त हो सके।

UP Budget 2021: योगी सरकार ने दिल्‍ली- मेरठ रैपिड रेल के लिए खोला पिटारा, 1326 करोड़ से होगा विकास

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.