मुजफ्फरनगर में हुई शर्मनाक घटना, स्कूल संचालकों ने नशीला पदार्थ खिलाकर छात्राओं से की छेड़छाड़

18 नवंबर को मुजफ्फरनगर के भोपा थानाक्षेत्र के एक स्कूल का संचालक योगेश कई छात्राओं को प्रैक्टिकल दिलाने के लिए तुगलकपुर स्थित एक स्कूल में लेकर गया था। आरोप है कि यहां पर देर होने का बहाना कर छात्राओं को स्कूल में ही रोक लिया गया था।

Parveen VashishtaSun, 05 Dec 2021 09:49 PM (IST)
मुजफ्फरनगर में स्कूल संचालकों ने नशीला पदार्थ खिलाकर छात्राओं से की छेड़छाड़

मुजफ्फरनगर, जागरण संवाददाता। भोपा थानाक्षेत्र के एक गांव स्थित स्कूल से प्रैक्टिकल देने के लिए आई छात्राओं को नशीला पदार्थ खिलाकर उनके साथ छेड़छाड़ की गई। मामले में दो स्कूल संचालकों के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

यह है मामला

18 नवंबर को भोपा थानाक्षेत्र के एक स्कूल का संचालक योगेश कई छात्राओं को प्रैक्टिकल दिलाने के लिए तुगलकपुर स्थित एक स्कूल में लेकर गया था। आरोप है कि यहां पर देर होने का बहाना कर छात्राओं को स्कूल में ही रोक लिया गया था। रात के समय छात्राओं को खिचड़ी में नशीला पदार्थ खिलाकर दोनों स्कूलों के संचालक योगेश और अर्जुन ने छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की। किसी को बताने पर फेल करने की धमकी दी। मामला एसएसपी अभिषेक यादव के संज्ञान में पहुंचा तो उन्होंने एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय और एएसपी कृष्ण विश्नोई को पुरकाजी पहुंचकर जांच के आदेश दिए। जांच के बाद दोनों स्कूल संचालकों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

ग्रामीणों ने लगाए आरोप

गांव से प्रधान संग थाने पहुंचे लोगों ने लोगों ने आरोप लगाया कि आठवीं की मान्यता होने के बावजूद कक्षा नौ व दस की प्रयोगात्मक परीक्षा दिलवाई। छात्राओं को रात में स्कूल में कैसे रोका गया।

लापरवाही पर थानेदार लाइन हाजिर

एसएसपी अभिषेक यादव ने थानेदार विनोद कुमार सिंह को लापरवाही बरतने पर लाइन हाजिर कर दिया। उधर, भाजपा विधायक ने भी थाना पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया था।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.