दिल्ली बार्डर से मेरठ तक प्रदूषण के गंभीर हालात, प्राधिकरण चेयरमैन जल्‍द भेजेंगे मुख्‍य सचिव को रिपोर्ट Meerut News

मेरठ, जेएनएन। राष्ट्रीय पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण के चेयरमैन भूरेलाल को दिल्ली बार्डर से मेरठ तक प्रदूषण के गंभीर हालात मिले। नेशनल हाइवे के निर्माण में धूल उड़ती मिली। कारखानों की चिमनियों से काला धुआं निकलता मिला और डंपिंग ग्राउंड के नगर निगम का कूड़ा फैला और शहर में कूड़ा जलता मिला। उन्होंने इस निरीक्षण की रिपोर्ट प्रदेश के मुख्य सचिव को भेजकर जल्द कड़े कदम उठाने का निर्देश दिया है।

चेयनमैन ने किया पूरे क्षेत्र का भ्रमण

प्राधिकरण चेयरमैन भूरेलाल ने छह अक्टूबर को पूरे क्षेत्र का भ्रमण किया और अफसरों के साथ समीक्षा बैठक की थी। उन्होंने प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी को भेजी रिपोर्ट में पूरे हालात बयां किये हैं। उन्होंने बताया है कि क्षेत्र के हालात असंतोषजनक मिले, अफसर भी गंभीर नहीं मिले। उन्होंने बताया कि एनएच 9 पर यूपी गेट से डासना इंटरचेंज तक सड़क का निर्माण चल रहा है। जिससे चारो ओर धूल उड़ रही थी, पानी का छिड़काव भी नहीं मिला। प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी गाजियाबाद ने एनएचएआइ पर 90.23 लाख का जुर्माना लगाने की जानकारी दी। लेकिन इसके बाद भी हालात नहीं सुधरे। उन्होंने रोजाना पानी का छिड़काव कराने तथा एनएचएआइ चेयरमैन को पत्र लिखकर निर्माण कार्य के दौरान प्रदूषण रोकने के लिए एक नोडल अफसर की नियुक्ति की मांग की।

औद्योगिक प्रदूषण की भी भरमार

उन्होंने बताया कि औद्योगिक प्रदूषण की भी क्षेत्र में भरमार है। एनएच 9 पर वेद पेपर मिल की चिमनी से काला धुआं निकल रहा था। राख पास की खाली जमीन पर डाली गई थी। इस मिल पर भी 26.25 लाख की पेनाल्टी लगाने की जानकारी दी गई। मोदी शुगर समेत क्षेत्र की सभी चीनी मिलों को बॉयलर में वाटर स्क्रबर और फिल्टर बैग लगाने का निर्देश दिया गया। हापुड़-मेरठ मार्ग पर धीर खेड़ा औद्योगिक क्षेत्र में आसमान में काला धुआं फैला था। उन्होंने इन सभी पर कार्रवाई के लिए कहा है।

डंपिंग ग्राउंड पर कूड़ा फैला मिला

मेरठ के परतापुर बाईपास औद्योगिक क्षेत्र और फेज प्रथम में भी काला धुआं फैला मिला। हॉटमिक्स प्लांट पर खुले में भवन निर्माण सामग्री डाली गई थी। इन सभी पर लगातार पेनाल्टी लगाने का निर्देश उन्होंने दिया। मेरठ शहर में खुले में कूड़ा जलता मिला। डंपिंग ग्राउंड पर भी कूड़ा फैला मिला। उन्होंने कूड़ा प्रबंधन कराने और इस पूरे मार्ग पर वाहनों को पीएनजी (गैस) उपलब्ध करायें का निर्देश दिया। उन्होंने शीघ्र कड़े कदम उठाने की मांग की है।

दीपावली के पहले ही बिगड़ेगी मेरठ-एनसीआर की हवा

दीपावली के पहले हवा की गुणवत्ता खराब होने के आसार बन रहे हैं। हवाओं की दिशा बदलने से मौसम वैज्ञानिकों ने मेरठ व दिल्ली सहित एनसीआर में प्रदूषण के स्तर में गंभीर स्तर तक बढ़ोत्तरी होने की संभावना जतायी है। वहीं रविवार की रात मौजूदा सीजन की सबसे ठंडी रात रही। न्यूनतम तापमान 16.8 डिग्री रहा। यह सामान्य से एक डिग्री कम रहा। सोमवार को चटक धूप के बावजूद गर्मी का प्रभाव नहीं रहा। अधिकतम तापमान 30.2 डिग्री आंका गया। यह सामान्य से दो डिग्री कम रहा। कृषि विवि के मौसम केंद्र के प्रभारी डा. यूपी शाही ने बताया कि उत्तर पश्चिम हवाओं का प्रवाह बढ़ेगा। इससे पंजाब हरियाणा में जलाई जा रही पराली के धुएं से हालात प्रदूषण बढ़ सकता है। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.