Sawan 2021: मेरठ में सावन के पहले सोमवार को मंदिरों में श्रद्धालुओं का तांता, भोले बाबा का किया जलाभिषेक

सावन के पहले सोमवार पर औघडऩाथ मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रहेगी। इंस्पेक्टर समेत सौ से ज्यादा पुलिसकर्मियों की दो शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही सेना के जवान और ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी मुस्तैद रहेंगे। अंदर से लेकर बाहर तक सुरक्षा घेरा रहेगा।

Prem Dutt BhattMon, 26 Jul 2021 06:00 AM (IST)
आज सावन के पहले सोमवार को मेरठ में कड़ी सुरक्षा के बीच जलाभिषेक होगा।

मेरठ, जेएनएन। सावन के आज पहले सोमवार को मेरठ और आसपास के जिलों में मंदिरों में शिवभक्त पूजा अर्चना कर भोले शंकर को जल अर्पण किया। सावन में प्रत्येक सोमवार को मवाना के बड़ा महादेव मंदिर व बहसूमा क्षेत्र में महाभारत कालीन सिद्धपीठ मंदिर पर श्रद्धालुओं का तांता लगता है। वहीं मेरठ में औघडऩाथ मंदिर में भी जलाभिषेक हुुआ। सुबह से लोग यहां पर पूजा के लिए पहुंचने लगे।

पुख्ता सुरक्षा, दो शिफ्ट में ड्यूटी

सावन के पहले सोमवार पर औघडऩाथ मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रहेगी। इंस्पेक्टर समेत सौ से ज्यादा पुलिसकर्मियों की दो शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही सेना के जवान और ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी मुस्तैद रहेंगे। अंदर से लेकर बाहर तक सुरक्षा घेरा रहेगा। सदर बाजार थाना क्षेत्र में स्थित औघडऩाथ मंदिर पर सावन के पहले सोमवार को अलसुबह से ही जलाभिषेक शुरू हो जाता है, जो रात तक चलता है। इसके चलते ही बड़ी संख्या में लोग मंदिर में उमड़ते हैं। सुरक्षा व्यवस्था मजबूत रखने के साथ ही शारीरिक दूरी का पालन कराने के लिए फोर्स की ड्यूटी लगा दी गई है। थाना प्रभारी ने बताया कि सुबह चार बजे से दोपहर एक बजे तक पहली शिफ्ट में ड्यूटी रहेगी। इसके बाद एक बजे से रात दस बजे तक दूसरी शिफ्ट तैनात रहेगी।

मवाना में जल अर्पण

मवाना में मेरठ रोड स्थित बड़ा महादेव शिव मंदिर पर आज सावन के पहले सोमवार को श्रद्धालु भगवान आशुतोष की पूजा-अर्चना कर जलाभिषेक करेंगे। यहां के अलावा पक्का तालाब के पास स्थित झारखंडी शिव मंदिर समेत विभिन्न मंदिरों में भी विशेष पूजा अर्चना की जाएगी। पांडव चौक स्थित सिद्धपीठ हनुमान मंदिर के पुजारी ओम प्रकाश भट्ट ने बताया कि श्रावण में भगवान शिव की पूजा का विशेष महत्व होता है। इस माह प्रत्येक सोमवार को भगवान शिव की पूजा एवं जलाभिषेक मनोकामना पूर्ण होती है। उन्होंने बताया कि मंदिर में कोरोना से बचाव को जारी गाइड लाइन का पालन कराया जाएगा।

सुबह से पांच से पूजा अर्चना

बहसूमा में सावन शुरू होते ही महाभारतकालीन प्राचीन फिरोजपुर शिव मंदिर पर फिरोजपुर महादेव मंदिर में सजावट का कार्य आरंभ हो गया है। आज सावन के प्रथम सोमवार को शिवभक्त मंदिर पर भगवान आशुतोष का जलाभिषेक करेंगे। मंदिर समिति अध्यक्ष डा. जितेंद्र कुमार प्रधान ने बताया कि मंदिर के गर्भ गृह में एक बार में केवल पांच श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया जा रहा है। आम दिनों में मंदिर सुबह पांच बजे से रात 10 बजे तक खुलता है और दोपहर में 1 से 3 बजे तक बंद रहता है। भक्तों को असुविधा न हो इसलिए प्रत्येक सोमवार को मंदिर पूरे दिन खुला रहेगा मंदिर दोपहर में बंद नहीं होगा। हर सोमवार को मंदिर में फूल सजाया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.