0121-2666688 पर मिलेगा कोरोना से जुड़ा हर समाधान

0121-2666688 पर मिलेगा कोरोना से जुड़ा हर समाधान

सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने बुधवार को एनआइसी भवन में संचालित इंटीग्रेटिड कोविड कमा

JagranThu, 22 Apr 2021 05:10 AM (IST)

मेरठ,जेएनएन। सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने बुधवार को एनआइसी भवन में संचालित इंटीग्रेटिड कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर की व्यवस्था परखीं। साथ ही बचत भवन में कोरोना संक्रमितों की होम आइसोलेशन के दौरान मदद और निगरानी के लिए स्थापित कंट्रोल सेंटर पहुंचकर व्यवस्था देखीं।

सांसद ने जिला प्रशासन द्वारा कोरोना से संबंधित किसी भी समस्या के समाधान के लिए स्थापित की गई हेल्पलाइन की भी जानकारी ली। उन्होंने बताया कि जनपद के लोग कोरोना से संबंधित किसी भी समस्या को लेकर हेल्पलाइन नंबर 0121-2666688 पर फोन कर समाधान प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि जनपद के अस्पतालों में भर्ती मरीजों के इलाज के लिए आवश्यक आक्सीजन की व्यवस्था के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

सांसद ने कहा कि एनआइसी स्थित कंट्रोल रूम से जहां सरकारी अस्पतालों में भर्ती कोरोना के गंभीर रोगियों के इलाज पर निगरानी की जा रही है। वहीं, बचत भवन में कंट्रोल रूम से होम आइसोलेशन में रहकर इलाज कर रहे कोरोना मरीजों से लगातार संपर्क कर उनकी समस्याओं का समाधान किया जा रहा है। उनकी स्वास्थ्य की स्थिति की निगरानी की जा रही है। हालत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल में शिफ्ट कराया जाता है।

326 की सैंपलिग, 32 की रिपोर्ट पाजिटिव: सरधना नगर व देहात में बुधवार को 32 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव मिली। इस पर स्वास्थ्य विभाग ने सभी को होम क्वारंटाइन कर दिया है।

सीएचसी प्रभारी डा. राजेश कुमार ने बताया कि बुधवार को नगर व देहात में के अलग अलग गांव व मोहल्ला निवासी 32 लोगों की रिपेार्ट कोरोना पाजिटिव आई है। जांच के सभी को होम क्वारटांइन कर दिया गया है। और संपर्क में आने वाले लोगों की गुरुवार को कोरोना सैंपलिग कराई जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.