सहारनपुर में राशन दुकानदार ने गेहूं के कट्टे खोले तो अंदर देखकर रह गया दंग, पढ़िए क्‍या निकला Saharanpur News

सहारनपुर में राशन की दुकानों पर गोदामों से सड़े गेहूं की आपूर्ति की गई।
Publish Date:Tue, 22 Sep 2020 12:46 PM (IST) Author: Prem Bhatt

सहारनपुर, जेएनएन। सहारनपुर में राशन की दुकानों पर गोदामों से सड़े गेहूं की आपूर्ति की गई है। सीलबंद कट्टे दुकान पर खोले जाने पर सड़ा गेहूं निकलने से राशन डीलर हतप्रभ रह गए। उन्होंने तत्काल मामले की जानकारी आपूर्ति निरीक्षक और उचित दर राशन एसोसिएशन के पदाधिकारियों को दी।

चार कट्टे मिट्टी तथा चोकर से भरे थे

सरसावा के गोदाम से गांव शाहजहांपुर के राशन विक्रेता नरेश कुमार को गेहूं की आपूर्ति राशन वितरण के लिए की गई थी। दुकान पर पहुंचे गेहूं को जैसे ही नरेश ने वितरण के लिए खोला तो वह देखकर हतप्रभ रह गया। चार कट्टे मिट्टी तथा चोकर से भरे हुए मिले डीलर ने ठेकेदार से संपर्क किया लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। बाद में आपूर्ति निरीक्षक और एसोसिएशन के पदाधिकारियों को सूचना दी। इसके अलावा सरसावा ब्लाक गांव भोजपुर गुर्जर में राशन विक्रेता अमरीश की दुकान पर भी कई कट्टों में मिट्टी भरा गेहूं मिला।

बदलवाने का है प्रावधान

यह सभी कट्टे सीलबंद थे लेकिन खोलने पर ही में से मिट्टी निकली। उधर, उचित दर राशन विक्रेता एसोसिएशन के प्रवक्ता भुवनेश्वर दीक्षित ने बताया कि राशन की दुकानों पर कई बार खराब खाद्यान्न की आपूर्ति होती है, जिसका खामियाजा राशन डीलर को भुगतना पड़ता है। क्षेत्रीय विपणन अधिकारी अरुण दत्त शर्मा का कहना था गोदामों को खाद्यान्न की आपूर्ति एफसीआई से होती है और वहीं पैकिंग कर गोदामों को खाद्यान्न भेजती है। राशन डीलर द्वारा शिकायत करने पर खराब खाद्यान्न संबंधित एजेंसी से बदलवाने जाने का प्रावधान है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.