Ring Road: मेरठ में ज्वाइंट सर्वे पूरा, रिंग रोड करेगी मालामाल, किसानों को मिलेगा 700 करोड़ मुआवजा

Ring Road मेरठ शहर का जल्‍द ही अब रिंग रोड का तोहफा मिल जाएगा। 13 किमी लंबी लिंक रोड एनएच 119 मवाना रोड को एनएच 58 रुड़की रोड से जोड़ेगी। रिंग रोड का यह लिंक 12 गांवों के सैकड़ों किसान परिवारों को धनवान बना देगा।

Prem Dutt BhattTue, 21 Sep 2021 02:30 PM (IST)
Ring Road एनएचएआइ ने शुरू की टेंडर की तैयारी, प्रशासन ने अवार्ड की।

अनुज शर्मा, मेरठ। Ring Road मेरठ शहर के रिंग रोड को पूरा करने वाली 13 किमी लंबी लिंक रोड एनएच 119 मवाना रोड को एनएच 58 रुड़की रोड से जोड़ेगी। रिंग रोड का यह लिंक 12 गांवों के सैकड़ों किसान परिवारों को मालामाल कर देगा। इस मार्ग के लिए एनएचएआइ की कंसलटेंट एजेंसी और तहसील की टीम का संयुक्त सर्वे पूरा हो गया है। अब जल्द किसानों के अवार्ड घोषित करके मुआवजा वितरण का काम शुरू किया जाएगा। वहीं एनएचएआइ ने भी इस मार्ग के निर्माण के टेंडर निकालने की तैयारी शुरू कर दी है।

भूमि के अधिग्रहण की अधिसूचना

मेरठ शहर से निकलने वाले सभी राजमार्गों को आपस में लिंक करके शहर के बाहर रिंग रोड तैयार करने की योजना पर काम किया जा रहा है। रिंग रोड को पूरा करने के लिए मवाना रोड और रुड़की रोड का आपस में जुडऩा बाकि था। एनएचएआइ ने इन्हें भी जोडऩे की तैयारी कर ली है। रूड़की रोड पर दौराला से लेकर मवाना रोड के गांव सलारपुर तक 45 मीटर चौड़े लिंक मार्ग का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए 12 गांवों की लगभग 133 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण की अधिसूचना जारी की जा चुकी है। भूमि को सरकार के नाम ट्रांसफर किया जा चुका है। अब एनएचएआइ द्वारा कंसलटेंट एजेंसी, तहसील की टीम तथा एनएचएआइ के इंजीनियरों की मदद से संयुक्त सर्वे कराया जा रहा था। ताकि उसी के आधार पर किसानों की भूमि और उसके ऊपर स्थित भवन व अन्य संसाधनों की कीमत का आकलन करके मुआवजा राशि का भुगतान किया जा सके।

सर्वे का काम पूरा

एनएचएआइ परियोजना निदेशक दिनेश चंद्र चतुर्वेदी ने बताया कि संयुक्त सर्वे का काम पूरा कर लिया गया है। जल्द यह रिपोर्ट हमे मिल जाएगी। इसके बाद उसी रिपोर्ट के आधार पर जिला प्रशासन किसानों के मुआवजे का अवार्ड जारी करेगा। फिर भुगतान शुरू होगा।

बंटेगा 700 करोड़ मुआवजा

अफसरों के मुताबिक 12 गांवों में 133 हेक्टेयर से ज्यादा जमीन का अधिग्रहण किया जाना है। जिसके बदले में औसतन मुआवजा राशि 700 करोड़ से ज्यादा होगी। अवार्ड घोषित करके एनएचएआइ से धनराशि की मांग की जाएगी। जिसके साथ ही किसानों को मुआवजा राशि का वितरण भी शुरू कर दिया जाएगा।

टेंडर जारी करने की भी तैयारी

एनएचएआइ परियोजना निदेशक दिनेश चंद्र चतुर्वेदी ने बताया कि ङ्क्षरग रोड के निर्माण के लिए जल्द टेंडर जारी करने की तैयारी है।

ऐसा होगा लिंक मार्ग

लंबाई 13.4 किमी

गांव 12

कुल जमीन 133.32 हेक्टेयर

इन गांवों से गुजरेगा लिंक मार्ग

1. बहचौला

2. सालारपुर जलालपुर

3.सिखेड़ा

4. भराला

5. दौराला

6. धंजू

7. इकलौता

8. खनौदा

9. मैथना इंद्र सिंह

10. मामूरपुर उर्फ देदवा

11. नंगला मुख्त्यारपुर

12. पनवाड़ी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.