मेरठ कालिजिएट एसोसिएशन में प्रतिष्ठा का चुनाव, जानिए इसका गौरवपूर्ण इतिहास

मेरठ कॉलेज के प्रबंध समिति का चुनाव ।

अंग्रेजों के जमाने का मेरठ कालेज। 1892 में स्थापित हुआ। इसका एक गौरवपूर्ण इतिहास है। कालेज में प्रबंध समिति का पदाधिकारी बनना भी गौरव की बात है। इसकी वजह से भी मेरठ कालिजिएट एसोसिएशन (प्रबंध समिति) का चुनाव एक तरह से प्रतिष्ठा का भी चुनाव है।

Himanshu DwivediSat, 10 Apr 2021 09:21 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। अंग्रेजों के जमाने का मेरठ कालेज। 1892 में स्थापित हुआ। इसका एक गौरवपूर्ण इतिहास है। कालेज में प्रबंध समिति का पदाधिकारी बनना भी गौरव की बात है। इसकी वजह से भी मेरठ कालिजिएट एसोसिएशन (प्रबंध समिति) का चुनाव एक तरह से प्रतिष्ठा का भी चुनाव है। प्रबंध समिति का यह चुनाव 18 अप्रैल को है। चार मुख्य पद पर आठ और 21 कार्यकारिणी सदस्य पदों के लिए 29 उम्मीदवार मैदान में उतरे हुए हैं।

सभी प्रत्याशी मतदाताओं के घर-घर जाकर संपर्क कर रहे हैं। कालेज में शैक्षणिक माहौल बनाए रखने से लेकर उसके गौरव को बढ़ाने के दावे भी कर रहे हैं। मेरठ कालेज अनुदानित कालेज होने की वजह से वेतन से लेकर ग्रांट सब कुछ सरकार से आवंटित होती है। प्रबंध समिति का कोई अलग से बजट नहीं है। समिति के पदाधिकारियों की ओर से कालेज में तन, मन, धन से सहयोग करने की बात की जा रही है।

85 साल कमिश्नर और डीएम रहे पदाधिकारी : मेरठ कालेज प्रबंध समिति में 1892 से लेकर अब तक 14 अध्यक्ष चुने जा चुके हैं। इसमें सबसे अधिक समय तक प्रबंध समिति के अध्यक्ष के पद पर कमिश्नर और जिलाधिकारी रहे हैं। 1892 से 1947 तक यानी 55 वर्ष कमिश्नर अध्यक्ष रहे। आजादी के बाद 1947 से 1977 तक कुल 30 वर्ष जिलाधिकारी ने अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाली। रघुवर दयाल मित्तल पहले गैर प्रशासनिक अध्यक्ष चुने गए। इसमें दयानंद गुप्ता और पीडी मित्तल दो-दो बार समिति के अध्यक्ष चुने गए थे।

होटल डीरोज में हुई बैठक

शुक्रवार को होटल डीरोज में मेरठ कालेज परिवार के प्रत्याशियों और समर्थकों की बैठक हुई। डा. रामकुमार गुप्ता के अनुसार कोविड की वजह से 100 लोगों के लिए अनुमति ली गई थी। इसमें पैनल के सभी प्रत्याशी और सदस्यों की आपस में चर्चा हुई।

1422 मतदाता करेंगे चुनाव

मेरठ कालेज प्रबंध समिति के चुनाव में कुल 1422 मतदाता हैं, जिसमें 350 महिला मतदाता हैं। सबसे अधिक व्यापारी वर्ग से इसके सदस्य हैं। डाक्टर, एडवोकेट, शिक्षक भी सदस्य हैं। वर्ष 2010 के बाद समिति में कोई नया सदस्य शामिल नहीं किया गया।

कालेज में बेहतर करने दावा

समिति के निवर्तमान अध्यक्ष रामकुमार गुप्ता की ओर से घोषणा पत्र भी जारी किया गया। इसमें पिछले साल कालेज में नए कोर्स शुरू कराने से लेकर मेधावियों को अपने पास से विशेष छात्रवृत्ति देने की बात की गई। वहीं, फ्रेंड्स आफ मेरठ कालेज पैनल से पिछले दस साल से संघर्ष कर रहे सचिव पद के प्रत्याशी विवेक गर्ग कालेज में बदलाव लाने की कोशिश में जुटे हैं।

प्रबंध समिति के अब तक के अध्यक्ष

मंडलायुक्त   1892        1947

जिलाधिकारी  1947      1977

रघुवर दयाल मित्तल    1977     1980

डा. राजा राम मित्तल    1981     1983

प्रशासक नियंत्रक        1984     1986

दयानंद गुप्ता          1986      1992

पीडी मित्तल          1992      1994

प्राधिकृत नियंत्रक       1994      1999

विनोद कुमार गर्ग       1999      2004

योगेश कुमार बंसल       2004     2007

जेके अग्रवाल            2007      2011

दयानंद गुप्ता            2011     2014

पीडी मित्तल            2014       2017

डा. रामकुमार गुप्ता    2017 से 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.