Rain Alert: मानसून सक्रिय होते ही हुई झमाझम बारिश, उमस भरी गर्मी से मिली बड़ी राहत, कई जगहों पर जलभराव

मौसम विभाग के अलर्ट के बाद शुक्रवार को मानसून फिर सक्रिय हो गया। वेस्‍ट यूपी समेत आसपास के जिलों में भारी बारिश हुई। बारिश से कई जिलों में जलभराव की भी स्थिति पैदा हो गई। बिजनौर बागपत में कई मार्ग अवरोध रहा।

Himanshu DwivediFri, 20 Aug 2021 03:18 PM (IST)
झमाझम बारिश होने से गर्मी से बड़ी राहत मिली।

मेरठ, जेएनएन। गुरूवार से ही मौसम के करवट बदलने की आशंका जताई जा रही थी। जिसके बाद रात में कई जिलों में बारिश हुई। बारिश से मौसम सुहाना बन गया। बादलों के दस्‍तक देने व हवाओं के चलने से लोगों को उमस भरी गर्मी से बड़ी राहत मिली है। हालाकि कई जगहों पर जलभराव ने समस्‍या पैदा की है। वहीं फसलों को भी इस बारिश से लाभ हुआ है।

मौसम विभाग के अलर्ट के बाद शुक्रवार को मानसून फिर सक्रिय हो गया। वेस्‍ट यूपी समेत आसपास के जिलों में भारी बारिश हुई। बारिश से कई जिलों में जलभराव की भी स्थिति पैदा हो गई। बिजनौर बागपत में कई मार्ग अवरोध रहा। बस स्‍टेशन से यात्रियों को निकलने और जाने में समस्‍याएं रहीं। मेरठ में रिमझिम व कहीं पर तेज बारिश से गर्मी से बड़ी राहत मिली है। मुजफ्फरनगर के एक हलवाई की दुकान में पानी घुसने से 2 लाख का नुकसान हुआ है। बिजनौर के कोटद्वार वाले रेलवे ट्रैक पर भी पानी लग गया है।

बागपत में जलभराव से समस्‍या, बारिश से सुहाना मौसम

सुबह से हो रही बूंदाबांदी से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। मौसम सुहाना हो गया है। रुक-रुक कर हो रही बारिश से बिजनौर, मलकपुर, सिनौली, बिनौली, किरठल, सूप आदि गांव में जलभराव से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा है। यदि बारिश ज्यादा हो गई तो किरठल में तालाब किनारे गलियों और घरों में एक बार फिर पानी भर सकता है। जगह सड़कों पर कीचड़ से राहगीरों को भी चलने में दिक्कत आ रही है। शहर में रोडवेज बस स्टैंड पर यात्रियों को परेशानी हो रही है चूंकि वहां अभी टीनशेड आदि नहीं है जिसके कारण लोगों को बारिश से परेशानी हो रही है खासकर बच्चों और महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं।

मुजफ्फरनगर में बारिश से दो लाख का नुकसान

पुरकाजी के खादर मोड़ पर पप्पू कश्यप हलवाई की दुकान में देर रात हुई भारी बारिश का पानी भरने से करीब दो लाख का नुकसान हो गया। वहीं आसपास के क्षेत्रों में भी जलभराव से कई दुकानों का नुकसान हुआ है।

बारिश से राहत, किसानों के चेहरे खिले

बिजनौर में शुक्रवार को सुबह सवेरे पहले आसमान में काले बादल छाए हुए थे। सुबह पौने पांच बजे से तेज बारिश शुरू हो गई। बारिश की वजह से आवास-विकास समेत कई अन्य निचली बस्तियों में पानी भर गया, जबकि मुख्य मार्गों पर जलभराव की समस्या उत्पन्न हो गई। वहीं डीएम आवास के निकट पेड़ गिरने से क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति बाधित हो गई। इस बारिश से लोगों को तेज गर्मी से राहत मिली है। वहीं किसानों को भी फायदा हुआ है।

इन जगहों पर बारिश बनी आफत

बिजनौर शामली व बागपत में बारिश ने सड़कों पर जलभराव की स्थिति पैदा कर दी है। जिससे लोगों को आवागमन में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बिजनौर में तो कोटद्वार जाने वाली रेलवे लाइन पर भी पानी भर गया। वहीं कई जगहों पर बिजली घर में पानी भरने से विद्युत व्यवस्था भी ठप हो गई है। इसके अलावा कई दुकानों में भी पानी घुसा नजर आया। बारिश का सबसे अधिक असर बिजनौर में हुआ है। यहां पूराने सरकारी दफ्तरों के अंदर तक पानी घुस गया। बागपत में बस गली और मार्गों पर ही पानी भरा हुआ है। वहीं शामली में मार्गों के साथ ही कई रास्‍ते भी बारिश व जलभराव के कारण अवरुध हो गए हैं।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.