बारिश ने फिर दिखाई मेरठ की बदहाल तस्‍वीरें: नालों व वर्षा के पानी से सड़कें हुईं जलमग्‍न, घर से निकलना भी मुश्‍किल

उमस भरी गर्मी के बाद कल रात से हो रही बारिश ने शहर की बदहाल तस्‍वीरें एक बार फिर सामने लेकर आई है। नगर निगम की व्‍यवस्‍था व सफाई योजनाओं की एक बार फिर पोल खुल गई है।

Himanshu DwivediWed, 28 Jul 2021 12:42 PM (IST)
बारिश ने फिर दिखाई मेरठ की बदहाल तस्‍वीरें।

मेरठ, जेएनएन। उमस भरी गर्मी के बाद कल रात से हो रही बारिश ने शहर की बदहाल तस्‍वीरें एक बार फिर सामने लेकर आई है। नगर निगम की व्‍यवस्‍था व सफाई योजनाओं की एक बार फिर पोल खुल गई है। आलम यह है कि नालों की सफाई न होने व बारिश के पानी का निकास व्‍यवस्‍था न होने से सड़कों व कालोनियों तक पानी भर गया है। पानी के भरने से घर से निकलना भी दूभर हो गया है। वहीं कई क्षेत्रों में तो घरों के अंदर भी पानी भरने की स्थिति आ गई।

भले ही उमस भरी गर्मी से बारिश ने लोगों को राहत दी है। पर नालों का पानी सड़कों पर इक्‍कठा हो जाने से आवागमन में दिक्‍कतें बढ़ गईं। बड़े वाहनों के आने जाने से भी मुख्‍य मार्गों पर भी गंदगी रही। कई जगहों पर तो स्थिति ऐसी रही कि पानी दुकानों में भर गया। घर के आसपास तक पानी पहुंचने से लोग अपने घर में ही बैठे रहे। वहीं उभनाएं हुए नाले से निकल रही बदबू से लोग परेशान हैं। केवल मेरठ में ही नहीं बल्‍क‍ि आसपास के देहात क्षेत्रों में भी जलभराव की समस्‍या रही।

मवाना में भी बारिश से जलमग्‍न हुए रास्‍ते

बारिश ने मवाना के नगर पालिका की सफाई व्यवस्था की कलई खोलकर रख दी। हाईवे समेत कई गली-मोहल्ले जलमग्न हो गए। बारिश थमने के बाद पानी की निकासी हुई और जलभराव से राहत मिली। बारिश दौरान पानी की निकासी नहीं होने से हाईवे के अलावा फलावदा रोड स्थित मंदिर वाली गली, चौहान चौक, तेलियो वाला कुंआ, पक्का तालाब आदि स्थानों पर जलभराव की समस्या पैदा हो गई और लोग घरों में कैद हो गए। नगर पालिका की ओर से बरसात के दिनों में जलभराव से निजात दिलाने के लिए 18 लाख के बजट से नालों की सफाई करायी गई थी, लेकिन चंद घंटे की मूसलाधार बारिश से नगर में जलभराव की समस्या बन रही है। बारिश से मवाना के साथ हस्तिनापुर, परीक्षितगढ़, बहसूमा, फलावदा समेत गांवों में जलभराव की स्थिति रही।

कंकरखेड़ा और पल्लवपुरम थाने में जलभराव

मोदीपुरम : घंटो की बारिश ने चारों और जलभराव कर दिया।कंकरखेड़ा और पल्लवपुरम थाने में एक -एक फिट पानी भर गया। कंकरखेड़ा थाने के सामने नाले की ऊंचाई है और थाना नीचा है, जिस वजह से बारिश का पानी सड़क और नाले से बहकर थाने में भरता है। बुधवार को पुलिस कर्मियों ने वर्दी तो पहनी, मगर पानी भरने की वजह से जूते नही पहने। दूसरी और पल्लवपुरम थाने के सामने नाला चोक होने की वजह से सड़क और थाने में जलभराव हो गया। कुछ देर के लिए पुलिस कर्मी थाने और आसपास के लोग अपने घरों में कैद हो गए।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.