ग्रामीणों का जलभराव की समस्या को लेकर धरना-प्रदर्शन

कुराली गांव में घरों से निकलने वाले गंदे पानी की निकासी की कोई व्यवस्था नहीं।
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 07:00 AM (IST) Author:

मेरठ, जेएनएन। कुराली-सिवाल संपर्क मार्ग पर जलभराव की समस्या से परेशान ग्रामीणों ने सोमवार को पदयात्रा निकालकर जानी ब्लाक पर धरना-प्रदर्शन किया। बीडीओ ने एक सप्ताह में समस्या का निस्तारण करने का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत किया। कुराली गांव में घरों से निकलने वाले गंदे पानी की निकासी की कोई व्यवस्था नहीं होने के कारण कुराली-सिवाल संपर्क मार्ग पर हर समय जलभराव की समस्या रहती है। जलभराव की समस्या से परेशान ग्रामीणों ने दो दिन अनशन भी किया था, लेकिन किसी अधिकारी द्वारा सुध न लिये जाने से क्षुब्ध ग्रामीणों ने सोमवार को गांव से जानी तक पदयात्रा निकाली और ब्लॉक में धरना-प्रदर्शन किया। ग्रामीण ब्लाक परिसर में ही धरने पर बैठ गये और नारेबाजी करने लगे। बाद में बीडीओ राजीव वर्मा ने एक सप्ताह में समस्या का निदान करने का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत किया। मनोज चौहान, ओमकार सिंह, विद्या राम शर्मा, वीर सिंह, बूंदू खां, साजिद, राजू, मोहित आदि मौजूद रहे। वहीं, ग्रामीणों ने हर्रा नगर पंचायत पर सोमवार को धरना देकर हंगामा किया। उन्होंने तालाब पर अवैध कब्जा मुक्त कराने की मांग की। नगर पंचायत कार्यालय पर सोमवार दोपहर वार्ड 14 के दर्जनों ग्रामीणों ने हंगामा कर धरना दिया। अब्बुलहाई व लुकमान चौहान ने बताया कि नपं के खसरा संख्या 2184 पर 3055 मीटर पर तालाब दर्ज है। आरोप है कि सालों से एक ही परिवार के लोगों ने मिट्टी डालकर तालाब पर अवैध कब्जा करके मकान बना लिया है। डेयरी का गोबर नाली में बहाया जा रहा है। इससे ग्रामीणों को आवागमन में परेशानी हो रही है। कस्बे में संक्रामक बीमारियां फैलने की आशंका बनी हुई है। उन्होंने तालाब को कब्जा मुक्त कराने की मांग करते हुए चेतावनी दी। अगर कार्रवाई नहीं हुई तो वह डीएम तथा मुख्यमंत्री से शिकायत करेंगे। शरीफ, गफ्फूर, सादाब, शोबिन, बुन्दू, अब्दुल गफ्फार, अबरार तथा मोहसिन आदि मौजूद रहे। हर्रा नगर पंचायत चेयरपसन हुस्नो बेगम ने बताया कि ग्रामीणों ने तालाब पर अवैध कब्जे की शिकायत की है। पुलिस व प्रशासन को पत्र भेज दिया है। शीघ्र ही जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.