top menutop menutop menu

मेरठ में पुलिस मुठभेड़ में पकड़ा गया एक लाख का इनामी भूरा, सीओ घायल

मेरठ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश पुलिस का शातिर अपराधियों के खिलाफ अभियान पटरी पर है। मेरठ में शुक्रवार को पुलिस ने कुख्यात बदमाश एक लाख रुपया के इनामी रवि मलिक उर्फ भूरा को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। मुठभेड़ में भूरा के साथ भिड़ंत में सीओ भी घायल है। एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार के साथ आईजी प्रवीण कुमार ने कुख्यात भूरा के पकड़े जाने की जानकारी दी है।

मेरठ के पल्लवपुरम थाना क्षेत्र की पुष्प विहार कॉलोनी में पुलिस के साथ भिड़ंत में बदमाश भूरा को गोली लगी। गोली लगने से घायल भूरा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया जबकि उसका एक साथी भाग गया। फरार हो गए भूरा के साथी की तलाश में पुलिस टीम कांबिंग कर रही हैं। पुलिस को भूरा के पास एक टोयोटा कार और पिस्टल मिली है। 

कंकरखेड़ा के आरके सिटी में डेढ़ लाख के इनामी शिव शक्ति के  मुठभेड़ में ढेर होने के बाद कुख्यात रवि उर्फ भूरा बचकर निकल गया था। रवि उर्फ भूरा पुत्र रघुवीर निवासी जीवन पार्क कालोनी अलीपुर दिल्ली में रहता है, जो मूलरूप से रायशी मुजफ्फरनगर का रहने वाला है। मुखबिर की सूचना पर सिल्वर रंग की क्रेटा पुष्प विहार में बॉबी रजपुरा के घर के सामने खड़ी देखी गई। तभी दोपहर को साढ़े बारह बजे सीओ जितेंद्र कुमार और पल्लवपुरम थाना पुलिस ने घेराबंदी की।

बदमाश वहां से रेलवे रोड की तरफ भागने लगे। पुलिस ने ओवरटेक कर क्रेटा को रोक लिया, जिस पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जवाबी फायरिंग में रवि उर्फ भूरा के पैर में गोली लगी। मौका पाकर उसके साथी पिंटू बंगाली एवं नितिन सैदपुरिया और एक अन्य बदमाश भाग गए। घायल रवि को पुलिस की मदद से अस्पताल में भर्ती कराया। तीनों बदमाशों की तलाश में कांबिंग की गई। उनका कोई पता नहीं चल पाया है।

एडीजी ने बताया कि पूछताछ में रवि ने बताया कि 30 जनवरी को मेरठ के वैष्णो धाम में बिजनौर में तैनात इंस्पेक्टर विपिन और प्रॉपर्टी डीलर विपिन की ऋतुराज के कहने पर हत्या करने आए थे। साथ ही उससे अगले ही दिन दिल्ली के एसीपी ललित मोहन नेगी की हत्या करनी थी। ललित मोहन नेगी ने शिव शक्ति नायडू पर मकोका लगा दिया था। रवि ने बताया कि ललित मोहन नेगी भी परतापुर में एक शादी समारोह में आए हुए थे। हनी और तिलकराज ने हत्या करने से इन्कार कर दिया, जिस पर हनी की गोली मारकर हत्या कर दी। साथ ही तिलकराज गोली लगने से घायल हो गया था। उसके बाद मौके से फरार हो गए थे। पुलिस रवि को रिमांड पर लेकर भी पूछताछ करेगी। 

मेरठ में इससे पहले 18 फरवरी को कई राज्यों के लिए सिरदर्द बना चुका शक्ति नायडू मेरठ पुलिस की गोली से घायल हो गया था और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। इस बदमाश पर एक लाख का इनाम घोषित था। एडीजी प्रशांत कुमार भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने बताया कि शक्ति दिल्ली का कुख्यात बदमाश है। उसने दिल्ली में एक सिपाही की 36 गोलियां मारकर हत्या की थी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.