अनुज हत्‍याकांड : वारदात को बीत गए 60 घंटे, हत्‍यारों की तलाश में पुलिस अब भी खाली हाथ Muzaffarnagar News

अनुज हत्‍याकांड : वारदात को बीत गए 60 घंटे, हत्‍यारों की तलाश में पुलिस अब भी खाली हाथ Muzaffarnagar News
Publish Date:Sat, 19 Sep 2020 08:53 PM (IST) Author: Prem Bhatt

मुजफ्फरगनर, जेएनएन। भोपा थानाक्षेत्र के कस्बा मोरना में मेडिकल संचालक अनुज की हत्या अपने पीछे तमाम सवाल खड़े कर रही है। आलम यह है कि 60 घंटे बीतने के बाद भी हत्यारों का पुलिस कोई सुराग नहीं लगा सकी है, जबकि पुलिस हत्यारों को चिन्हित करने का दावा कर चुकी है। उधर, केंद्रीय राज्यमंत्री ने मृतक के घर पहुंचकर परिजनों को ढाढस बंधाया और शीघ्र ही हत्यारों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया।

अनुज हत्याकांड से मोरना समेत आसपास के क्षेत्र में रहने वाले व्यापारियों में दहशत का माहौल है। हत्याकांड के बाद एसएसपी अभिषेक यादव ने तीन हत्यारों को चिन्हित करने का दावा करते हुए शीघ्र ही गिरफ्तार करने की बात कही थी, लेकिन वारदात के 60 घंटे बीतने के बाद भी पुलिस के हाथ हत्यारों के गिरेबां तक नहीं पहुंचे। हत्यारों की गिरफ्तारी न होने पर पुलिस कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान उठना लाजिम है।

उधर, शनिवार को दोपहर के समय केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान अनुज के घर पहुंचे और मृतक के परिजनों को हर संभव सहायता का आश्वासन देते हुए शीघ्र ही हत्यारों की गिरफ्तारी की बात कही।

स्थानीय नेताओं ने उठाया आर्थिक सहायता का मुद्दा

मृतक अनुज के घर पहुंचे केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान के सामने भाजपा नेता डा. वीरपाल निर्वाल और अमित राठी ने मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता की मांग उठाई। संजीव बालियान ने मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन दिया।

बेटी और मैं भी नहीं सुरक्षित: अंजिता

केंद्रीय राज्यमंत्री के सामने मृतक की पत्नी अंजिता ने अपनी और परिजनों की जान का खतरा बताया। अंजिता का कहना है कहा कि हत्यारों ने पति की हत्या कर दी। वह और उसकी बेटियां भी सुरक्षित नहीं हैं। इस पर मंत्री ने अंजिता को कानून-व्यवस्था पर भरोसा रखने की बात कही।

दोनों बेटियों की इंटर तक शिक्षा निशुल्क

मृतक की दोनों बेटियां मोरना के इंद्रप्रस्थ पब्लिक स्कूल में कक्षा 11 और कक्षा सात में पढ़ती हैं। अनुज की हत्या के बाद परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे स्कूल के सचिव विराज तोमर ने दोनों बेटियों को कक्षा 12 तक निशुल्क शिक्षा दिलाने की घोषणा की। गौरतलब है कि अनुज की पत्नी अंजिता इंद्रप्रस्थ स्कूल में शिक्षिका हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.