Martyr Nishant Sharma: निशांत की दो साल पहले ही हुई थी शादी, शहादत ने छीन ली सभी खुशियां

सहारनपुर का जवान निशांत शर्मा क्रास फायरिंग में शहीद।

सहारनपुर के जवान निशांत शर्मा की शहादत ने परिवार की सभी खुशियां छीन ली। निशांत की दो साल पहले ही शादी हुई थी। निशांत जब भी छूट्टी पर आता तो दोस्‍तों से बार्डर की पूरी दास्‍तां बताता। इस घटना से पूरा शहर गमों के सैलाब में डूबा हुआ है।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:25 PM (IST) Author: Himanshu Dwivedi

[बृजमोहन मोगा] सहारनपुर। जम्मू कश्मीर के अखनूर सेक्टर में शहीद हुए नायक निशांत शर्मा खुशमिजाज युवा थे। वह जब भी छुट्टी पर आते थे अपने सभी यार दोस्तों से मिलते थे। देशभक्ति का जज्बा उनमें कूट-कूटकर भरा था। जैसे ही निशांत शर्मा की शहादत की खबर पहुंची उनके घर पहुंची तो गली से लेकर यार दोस्तों तक सभी शोक में डूब गए और निशांत के साथ बिताए उन पलों को याद करने लगे, जब वह छुट्टी पर आने के बाद अपनी पोस्ट पर तैनाती के बारे में बताते थे। दूसरी ओर इस घटना से परिवार में तो जैसे आफत का पहाड़ टूट पड़ा हो। परिवार को गहरा आघात लगा है।

रविवार को निशांत शर्मा की शहादत की खबर मिलने पर उनके साथ पढ़े बचपन के दोस्त सन्नी तोमर ने बताया कि निशांत बहुत अच्छी आदत का लड़का था और पढ़ाई लिखाई में भी तेज था। पढ़ाई के दौरान ही वह सेना में भर्ती होने की बात करता था और उसी हिसाब से सेना में भर्ती की तैयारी करता था।

सेना में भर्ती होने पर वह बहुत खुश हुआ था। उन्होंने बताया कि निशांत जब भी छुट्टी पर आता था तो वह उनके अलावा अपने अन्य दोस्तों में शामिल जोनू, अंकित, मुन्नू त्यागी सभी से मिलता था। उनका कहना है कि वह इतना खुशमिजाज था कि वह बच्चों से लेकर बूढ़े तक सभी से प्यार से बात करता था। देश भक्ति का जज्बा तो जैसे पूरे परिवार में कूट-कूट कर भरा है। यही कारण है कि तीन भाईयों में दो भाई सेना में हैं तो बड़े भाई शिक्षक के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

शहीद निशांत शर्मा के ताऊ राजेंद्र शर्मा भी सेना में थे और जेसीओ से रिटायर्ड हैं। अपने ताऊ की प्रेरणा से ही निशांत ने सेना में भर्ती होने का मन बनाया था। ताऊ राजेंद्र शर्मा ने बातचीत में कहा कि निशांत की शहादत से परिवार में दुख तो है, मगर गर्व है कि निशांत ने दुश्मनों के दांत खट्टे करते हुए देश के लिए अपना बलिदान दिया है, परिवार को उन पर फख्र है।

निशांत का छोटा भाई शुभम शर्मा भी सेना में है। उन्होंने बताया कि निशांत दीपावली पर घर आया था और दोबारा जल्दी ही आने के बारे में कह रहा था। परिवार के लोगों ने बताया कि करीब दो साल पहले इसकी शादी हुई थी। मगर आज आई दुखद सूचना ने परिवार की सारी खुशियां छीन ली। परिवार के साथ-साथ उनकी पूरी गली में सन्नाटा पसरा है और हर कोई निशांत की बातों को याद कर रो रहा है।

यह भी पढ़ें : सीमा पार से हुई गोलीबारी में जम्मू कश्मीर में शहीद हुए सहारनपुर के जवान निशांत शर्मा 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.