मुजफ्फरनगर : महिला चिकित्सक की हत्या के मामले में पति की खिलाफ मुकदमा दर्ज, मायके वालों ने लगाया यह आरोप

मोहनलाल गुप्ता की बेटी डा. शिल्पी अग्रवाल की शादी 16 वर्ष पूर्व मुजफ्फरनगर निवासी रूमित अग्रवाल से हुई थी। शिल्पी फीजियोथेरेपिस्ट थी और अपना क्लीनिक खोलना चाहती थी। शुक्रवार तड़के शिल्पी के पति रूमित ने मोहनलाल गुप्ता को फोन कर जानकारी दी की शिल्पी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

Parveen VashishtaPublish:Sat, 27 Nov 2021 07:02 PM (IST) Updated:Sat, 27 Nov 2021 07:02 PM (IST)
मुजफ्फरनगर : महिला चिकित्सक की हत्या के मामले में पति की खिलाफ मुकदमा दर्ज, मायके वालों ने लगाया यह आरोप
मुजफ्फरनगर : महिला चिकित्सक की हत्या के मामले में पति की खिलाफ मुकदमा दर्ज, मायके वालों ने लगाया यह आरोप

मुजफ्फरनगर, जागरण संवाददाता। साउथ सिविल लाइन निवासी महिला चिकित्सक की हत्या के मामले में पुलिस ने मृतका के पति की खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी है।

यह है मामला

भरतिया कालोनी निवासी मोहनलाल गुप्ता की बेटी डा. शिल्पी अग्रवाल की शादी 16 वर्ष पूर्व दक्षिणी सिविल लाइन निवासी रूमित अग्रवाल से हुई थी। मोहनलाल गुप्ता वर्तमान में गौतमबुद्धनगर में रहते हैं। शिल्पी फीजियोथेरेपिस्ट थी और अपना क्लीनिक खोलना चाहती थी। शुक्रवार तड़के शिल्पी के पति रूमित ने मोहनलाल गुप्ता को फोन कर जानकारी दी की शिल्पी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मोहनलाल ने अपने छोटे भाई सुशील को मौके पर भेजा। जब तक सुशील मौके पर पहुंचते तो पुलिस शव को अस्पताल ले जा चुकी थी। दोपहर बाद मोहनलाल और अन्य स्वजन भी मौके पर पहुंच गए। शिल्पी के मायके वालों ने हत्या का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया था। पुलिस ने स्वजन को शांत कराते हुए कार्रवाई का आश्वासन दिया। मोहनलाल ने पति रूमित पर फांसी लगाकर शिल्पी की हत्या करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। शुक्रवार देर रात पुलिस ने रूमित के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

मुठभेड़ में टाप 10 बदमाश गिरफ्तार 

मुजफ्फरनगर। भोपा क्षेत्र में जौली-कम्हेड़ा गंगनहर पटरी पर पुलिस ने चेङ्क्षकग के दौरान मुठभेड़ में टॉप टेन बदमाश को चोरी की बाइक के साथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से तमंचा बरामद किया। आरोपित के विरुद्ध भोपा थाने में दर्जनों मुकदमे पंजीकृत हैं। पुलिस ने अभियुक्त को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेजा गया है।

प्रभारी निरीक्षक सुभाष अत्री ने बताया कि बीते शुक्रवार देर शाम को उपनिरीक्षक जबरङ्क्षसह व संदीप कुमार जौली कम्हेड़ा गंग नहर पटरी पर चेङ्क्षकग कर रहे थे कि अचानक एक संदिग्ध युवक पुलिस को देखते ही बाइक लेकर भागने लगा। पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो आरोपित ने पुलिस पर जान से मारने की नीयत से फायर कर भागने लगा। पुलिस ने उसका पीछा कर गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपित ने अपना नाम शाहनजर निवासी नंगला बुजुर्ग बताया। पुलिस ने उसके पास से एक तमंचा व चोरी की बाइक बरामद की। आरोपित के विरुद्ध भोपा थाने पर दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं तथा वह थाने टॉप 10 अपराधी भी है। पुलिस ने आरोपित को न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज गया है।