Weather Update News: उमस भरी गर्मी ने किया बूरा हाल, दो दिन बाद मौसम बदलेगा करवट; होगी झमाझम बारिश

दिल्‍ली एनसीआर में हो रही उमस भरी गर्मी लोगों का बूरा हाल कर रही है। अगस्‍त माह में भी जून जैसी गर्मी महसूूस हो रही है। दिन का पारा 40 डिग्री के आसपास दर्ज की जा रही है। मौसम विभाग ने बुधवार से बारिश की संभावना जताई है।

Himanshu DwivediMon, 16 Aug 2021 01:18 PM (IST)
बुधवार से मेरठ समेत आसपास में बारिश की संभावना, गर्मी से मिलेगी राहत।

मेरठ, जेएनएन। दिल्‍ली एनसीआर में हो रही उमस भरी गर्मी लोगों का बूरा हाल कर रही है। अगस्‍त माह में भी जून जैसी गर्मी महसूूस हो रही है। लोगों उमस भरी गर्मी से पशीने से तरबतर हो रहे हैं। दिन का पारा सामान्‍य से अधिकत्‍म तक पहुंच रहा है। रात में भी अब उमस भरी गर्मी सताने लगी है। पंखे या कुलर चलने के बाद भी गर्मी महसूस हो रही है। वहीं अब मौसम विभाग ने गर्मी से राहत भरी खबर दी है। मौसम विभाग के अनुसार दो दिन बाद मौसम में बदलाव आएगा। जिससे झमाझम बारिश होने की संभावना है।

अगस्‍त माह में सिर्फ एक दिन ही बारिश हुई है। जिससे मौसम में कई दिनों तक ठंडक रही। कई बार तो बीच-बीच में बारिश के आसार भी बने लेकिन बादल आए ओर चले भी गए, लेकिन बारिश नहीं हुई। दिन का अधि‍कतम तापमान 40 के आसपास दर्ज किया जा रहा है। जिससे रात में भी उमस भरी गर्मी परेशान कर रही है। सोमवार को दिन का अधिकतम तापमान 38 डिग्री दर्ज किया गया। हवा की गति बेहद धीमी रही। रविवार को दिन का अधिकतम तापमान 37 डिग्री के उपर रिकार्ड किया गया था।

बारिश की संभावना

मेरठ समेत पूरे एनसीआर क्षेत्र में फिर से मानसून आने का योग बना है। मौसम विभाग ने बताया है कि दो दिनों बाद बारिश की संभावना है। यानी परसो से बारिश की संभावना है। इस दौरान लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिलेगी। इस दौरान हवा की गति धीमी रहेगी। जानकारी के अनुसार बारिश केवल बुधवार को ही नहीं बल्कि आगे भी जारी रहेगी।

किसानों को भी बारिश का इंतजार

धान की फसल के विकास के लिए किसानों को भी बारिश का बेसब्री से इंतजार है। विशेषज्ञों को मानना है कि बारिश न होने से धान की फसल की वृद्धि दर कम हुई है। बारिश होने से निश्चित तौर पर इनके विकास में लाभ होगा।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.