दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

मेरठ: आधी रात को प्लाज्मा देकर बचाई मरीज की जान, बोले- नहीं होती कोई कमजोरी

आधी रात को प्‍लाज्‍मा देकर बचाई मरीज की जान।

मेरठ में रहने वाले सुरेंद्र सिंह बिष्ट की है। छह अप्रैल को वह खुद कोरोना संक्रमित हो गए थे। ठीक होने के बाद उन्‍होंने आनंद अस्पताल में किसी मरीज को ओ पाजिटिव ब्लड ग्रुप का प्लाज्मा चाहिए। तो वह फोन करके वहां गए और आधी रात को प्‍लाज्‍मा दिया।

Himanshu DwivediMon, 17 May 2021 10:01 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। कोरोना से लोगों को बचाने के लिए बहुत से योद्धा सामने आ रहे हैं। उनकी कोशिश संकट की इस घड़ी में संजीवनी की तरह है। अस्पताल में भर्ती मरीजों को प्लाज्मा भी देकर लोग जान बचा रहे हैं। इतना ही नहीं मरीजों का सहारा भी बन रहे हैं। इसके अलावा तीरमदारों की मदद और आक्‍सीजन और जरूरी दवाओं के साथ परिवार को भोजन देने जैसे मददगार भी सामने आ रहे हैं। वहीं ऐसी ही कोशिश शास्त्रीनगर सेक्टर तीन में रहने वाले सुरेंद्र सिंह बिष्ट की है।

छह अप्रैल को वह खुद कोरोना संक्रमित हो गए थे। खांसी और बुखार के साथ स्वाद भी गायब हो गया। होम क्वारंटाइन पर रहते हुए उन्होंने दवाएं ली। चौदह दिन के बाद रिपोर्ट निगेटिव आ गई। घर पर रहते हुए उन्होंने हल्दी दूध, काढ़ा, भाप लेते रहे। ठीक होने के बाद उन्हें अपने दोस्त से पता चला कि आनंद अस्पताल में किसी मरीज को ओ पाजिटिव ब्लड ग्रुप का प्लाज्मा चाहिए। तो वह फोन करके वहां गए। पहले उनके ब्लड का सैंपल लिया गया। रात 12.30 बजे दोबारा से अस्पताल जाकर सुरेंद्र ने प्लाज्मा डोनेट किया। सुरेंद्र गुड़गांव में एक कंपनी में जाब करते हैं। सुरेंद्र का कहना है कि प्लाज्मा देने से कोई कमजोरी नहीं होती है।

आइटीसी-ड्राबैक रिफंड के लिए 31 तक चलेगा अभियान

उद्यमियों को राहत देने के लिए केंद्रीय वस्तु एवं सेवाकर विभाग ने इनपुट टैक्स क्रेडिट और कस्टम के तहत ड्राबैक के भुगतान का अभियान चलाया है। सीजीएसटी मेरठ आयुक्तालय के प्रधान आयुक्त एसवी सिंह ने बताया कि 15 मई से अभियान आरंभ हुआ है और 31 मई तक चलेगा। इसके तहत 14 मई तक के सभी वैध लंबित मामले निपटाए जाएंगे। मेरठ आयुक्तालय में 156 मामले अभी तक लंबित हैं। इनके निस्तारण की कार्रवाई आरंभ कर दी गई है। कहा कि रिफंड से संबधित किसी करदाता का कोई मामला लंबित है तो संबधित मंडल कार्यालय में आवश्यक प्रपत्रों सहित आवेदन कर सकता है या ईमेल भी कर सकता है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.