मेरठ : गर्भवती महिला से जबरन तलाकनामे पर कराया हस्‍ताक्षर, सदमे में विवाहिता की मौत

मेरठ में विवाहिता की सदमे में मौत हो गई।

जबरन तलाकनामे पर हस्ताक्षर कराने के बाद ससुराल वालों ने विवाहिता को पीट-पीटकर घर से निकाल दिया। इससे सदमे में आई विवाहिता की उपचार के दौरान मौत हो गई। स्वजन ने हास्पिटल से लेकर थाने तक जमकर हंगामा किया।

Himanshu DwivediFri, 07 May 2021 11:05 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। जबरन तलाकनामे पर हस्ताक्षर कराने के बाद ससुराल वालों ने विवाहिता को पीट-पीटकर घर से निकाल दिया। इससे सदमे में आई विवाहिता की उपचार के दौरान मौत हो गई। स्वजन ने हास्पिटल से लेकर थाने तक जमकर हंगामा किया। इसी बीच मृतका की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आ गई। इसके बाद शव को हास्पिटल की मर्चरी में ही रखवा दिया गया। विवाहिता के स्वजन ने हास्पिटल स्टाफ व ससुरालियों के खिलाफ तहरीर दी है।

पीट-पीटकर घर से निकला

लिसाड़ी गेट थान क्षेत्र के मोहल्ला फतेहउल्लाहपुर निवासी अबरार ने अपनी पुत्री सलीना उर्फ सना का निकाह करीब एक वर्ष पूर्व भावनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम रुकनपुर निवासी दानिश से किया था। विवाहिता सात महीने की गर्भवती थी। दो दिन पहले ससुरालियों ने जबरन तलाकनामे पर हस्ताक्षर कराने के बाद विवाहिता की पिटाई कर उसे घर से निकाल दिया था। गुस्साए मायके वालों ने दानिश की मां की पिटाई कर दी थी। चोटिल होने पर विवाहिता के स्वजन ने सलीना को शुभकामना हास्पिटल में भर्ती कराया था।

विवाहिता की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव

बुधवार को उपचार के दौरान सलीना की मृत्यु हो गई। इसी बीच विवाहिता की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आ गई। मृतका के स्वजन ने रिपोर्ट गलत बनवाने का आरोप लगाकर हास्पिटल में हंगामा किया। पुलिस ने बामुश्किल उन्हें समझाकर शांत कराया। मृतका के स्वजन ने हास्पिटल स्टाफ व ससुराल पक्ष के खिलाफ तहरीर दी है। सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया का कहना है कि जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.