Meerut Market Closed: अब मेरठ के सभी बाजारों में सोमवार को होगी साप्ताहिक बंदी, सिर्फ इन्‍हें मिलेगी छूट

कोरोना के रोकथाम के लिए सोमवार को बाजार बंद करने का एलान।

Meerut के सभी बाजारों की साप्ताहिक बंदी अब सोमवार को होगी। यानी रविवार को लाकडाउन के चलते सभी बाजार अब सप्ताह में लगातार दो दिन बंद रहेंगे। कोरोना की रोकथाम के लिए डीएम ने साप्ताहिक बंदी के पूर्व आदेश को स्थगित करके अगले आदेश तक यह व्यवस्था लागू की है।

Himanshu DwivediTue, 20 Apr 2021 09:47 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। जनपद के सभी बाजारों की साप्ताहिक बंदी अब सोमवार को होगी। यानी रविवार को लाकडाउन के चलते सभी बाजार अब सप्ताह में लगातार दो दिन बंद रहेंगे। कोरोना की रोकथाम के लिए डीएम ने साप्ताहिक बंदी के पूर्व आदेश को स्थगित करके अगले आदेश तक यह व्यवस्था लागू की है। जनपद में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण की कड़ी तोड़ने के लिए जिला प्रशासन ने व्यापारियों से जनपद के सभी बाजारों में स्वेच्छा से सोमवार को साप्ताहिक बंदी रखने की अपील की थी। संयुक्त व्यापार संघ ने इसके लिए विभिन्न व्यापार संघों के पदाधिकारियों से अपील भी की लेकिन व्यापारी एक मत नहीं हो सके।

यही कारण रहा कि सोमवार को शहर के कई बाजार खुले रहे। इन हालात को देखते हुए जिला प्रशासन ने सख्ती करने का निर्णय लिया। डीएम के. बालाजी ने एक जनवरी 2021 को जनपद के शहर और ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न बाजारों की साप्ताहिक बंदी के दिन निर्धारित करके आदेश जारी किया था। सोमवार को उन्होंने इस पुराने आदेश को स्थगित करके नया आदेश जारी किया है। उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई होगी।

साप्ताहिक बंदी में खुली दुकानों को व्यापारी नेताओं ने किया बंद

साप्ताहिक बंदी में सोमवार को खुली दुकानों को बंद कराने के लिए व्यापारी नेताओं ने आगे बढ़कर दुकानों को बंद कराया। पल्लवपुरम व्यापार संघ पल्लव टावर के अध्यक्ष देवेंद्र चौहान के नेतृत्व में व्यापारियों ने चौहान मार्केट, भव्य पैलेस, पल्लवपुरम और रुड़की रोड पर खुली दुकानों को बंद कराया गया। व्यापारी नेताओं ने कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए साप्ताहिक बंदी का समर्थन करने का ऐलान किया। इस दौरान रविंद्र शर्मा, बिट्टू सरदार, विजय गोयल, वैभव, दिनेश, अभिषेक विहान, कृष्ण सैनी, ललित, पवन चौहान, दीपक सक्सेना, मनोज गुप्ता आदि थे।

सामूहिक साप्ताहिक बंदी को कारगर मानते हैं व्यापारी

रविवार व सोमवार को लगातार दो दिनों तक बाजार बंद रखने से कोरोना की चेन तोड़ने में आसानी होगी। डीएम का निर्णय सराहनीय है। बाजार में व्यापारी व ग्राहक दोनों कुशल रहें, इसके लिए कदम उठाने होंगे। व्यापारी प्रशासन के निर्णय के साथ खड़ा है।

किशोर वाधवा, अध्यक्ष, सेंट्रल मार्केट व्यापार संघ

बेगमपुल बाजार में बुधवार को साप्ताहिक बंदी होती है। लेकिन प्रशासन ने सभी बाजारों को सामूहिक रूप से सोमवार को बंद रखने का निर्णय लिया है। बुधवार को बंद रहेगा या नहीं, इसके लिए मंगलवार को बेगमपुल व्यापार संघ बैठक करेगा।

अशोक माहेश्वरी, अध्यक्ष, बेगमपुल व्यापार संघ

इस निर्णय से कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ी जा सकेगी। रविवार व सोमवार एक साथ बंदी होने से कोरोना की चेन तोड़ने में सफलता मिलेगी। जो बाजार शेष दिनों में बंदी रखते हैं, वह भी इन्हीं दिनों में अपनी साप्ताहिक बंदी रखें, तो बेहतर है।

नरेंद्र सिंह करनैल, अध्यक्ष, आबूलेन व्यापार संघ

कोरोना की चेन तोड़ने के लिए यह जरूरी था। सोमवार को व्यापारियों ने बंद के आहवान का काफी हद तक समर्थन किया। हमारे साथ शहर के सभी बाजार सोमवार की सामूहिक बंदी में साथ रहे। शहर में आबूलेन, गढ़ रोड, रोहटा रोड, कंकरखेड़ा, जागृति विहार, शास्त्रीनगर पल्लवपुरम व लालकुर्ती पैंठ आदि मुख्य बाजार बंद रहे। उन सभी व्यापारियों का आभार है, जिन्होंने अपने और जनता हित में इस निर्णय में साथ दिया। शापिंग माल व विशाल मेगा मार्ट भी सोमवार को बंदी में शामिल होने चाहिएं।

अजय गुप्ता, अध्यक्ष, संयुक्त व्यापार संघ

शहर के सभी बाजार सप्ताह में केवल एक ही दिन बंद होने चाहिए। यह मांग हमनें काफी समय से रखी थी। सरकार से निवेदन है कि रविवार के अलावा एक दिन ऐसा भी हो, जिसमें सभी सरकारी कार्यालय बंद किए जाएं। सरकारी कार्यालयों में भीड़ जुटती है, उस पर अंकुश लग सके। कोरोना को हराने के लिए बाजार में साप्ताहिक बंदी को व्यापारी भी समङों।

विपुल सिंघल, महामंत्री, संयुक्त गढ़ रोड व्यापार समिति

साप्ताहिक बंदी में इन्हें छूट

होटल, रेस्तरां, खाने-पीने की वस्तुओं की दुकानें, बेकरी, डेयरी, राशन की दुकानें, मेडिकल स्टोर, हेयर कटिंग, हलवाई आदि।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.