परिवर्तन और न्याय की भूमि है मेरठ : एके शर्मा

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्व आइएएस अधिकारी एवं विधान परिषद सदस्य अरविंद कुमार शर्मा ने सोमवार को मेरठ में कई कार्यक्रमों में शिरकत की। बाईपास स्थित एक संस्थान में आयोजित शहीद कोतवाल धनसिंह गुर्जर की श्रद्धाजलि सभा में पहुंचे और जनसंवाद भी किया।

JagranTue, 30 Nov 2021 09:47 AM (IST)
परिवर्तन और न्याय की भूमि है मेरठ : एके शर्मा

मेरठ, जेएनएन। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष, पूर्व आइएएस अधिकारी एवं विधान परिषद सदस्य अरविंद कुमार शर्मा ने सोमवार को मेरठ में कई कार्यक्रमों में शिरकत की। बाईपास स्थित एक संस्थान में आयोजित शहीद कोतवाल धनसिंह गुर्जर की श्रद्धाजलि सभा में पहुंचे और जनसंवाद भी किया। उन्होंने धनसिंह कोतवाल के बलिदान को प्रेरणादायक बताया। कहा कि गुर्जर समाज का इतिहास वीरों एवं बलिदानियों का है। मेरठ, हस्तिनापुर परिवर्तन एवं न्याय की भूमि रही है। वहीं, सीसीएसयू में आयोजित युवा संवाद में भाग लिया। कहा कि युवाओं के कंधे पर देश का भविष्य टिका है। एक जिला-एक उत्पाद योजना को प्रोत्साहित करते हुए दिल्ली रोड स्थित उद्योगपुरम पहुंचे। टेक्सटाइल उद्योग से जुड़ी हुई बारीकियों को जाना। बाद में भाजपा के क्षेत्रीय कार्यालय पहुंचे, जहां महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, उपाध्यक्ष संजय त्रिपाठी एवं मंत्री विभोर चौधरी समेत कई अन्य ने स्वागत किया। एके शर्मा ने भाजपाइयों को संबोधित करते हुए बताया कि उनका भाजपा से 21 साल पुराना नाता है। पार्टी ने देश और प्रदेश का माहौल बदला है।

भाजपा पश्चिम से निकालेगी विजय संकल्प यात्रा

मेरठ : चुनावी माहौल में भाजपा एक बार फिर पश्चिमी उप्र से अपना रथ हांकने की तैयारी में है। गृहमंत्री अमित शाह 15 दिसंबर के आसपास सहारनपुर से विजय संकल्प यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे। यह यात्रा पूरे प्रदेश में भाजपा की चुनावी रणनीति को धार देगी। बता दें कि इससे पहले 2014 में भाजपा विजय शंखनाद और 2017 में चुनाव से पहले परिवर्तन यात्रा निकाल चुकी है।

2022 विस चुनाव को लेकर भाजपा कमर कस चुकी है। पश्चिमी उप्र की राजनीतिक आबोहवा भाजपा के लिए मुफीद रही है। 2014 मोदी लहर के बाद यह हवा 2017 विस एवं 2019 लोस चुनावों में भी कायम रही। पार्टी पंचायत चुनाव के बहाने जनता का मिजाज परख चुकी है, लिहाजा संगठन कोई चूक नहीं करेगा। प्रदेशभर में दिग्गज नेता बूथ सम्मेलन कर रहे हैं। इस दौरान शाह कम से कम तीन बार पश्चिमी उप्र का दौरा करेंगे। वह दो दिसंबर को सरकारी कार्यक्रम के तहत सहारनपुर जाएंगे। माना जा रहा है कि इस बहाने वह तैयारियों का पारा भी परखेंगे। आठ दिसंबर को मेरठ में पश्चिमी उप्र के बूथ अध्यक्षों को संबोधित करेंगे। महानगर एवं जिला इकाई इसकी तैयारी कर चुके हैं। पार्टी पदाधिकारियों ने बताया कि दिसंबर में पश्चिमी उप्र में केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा, स्वतंत्र देव सिंह एवं सुनील बंसल जैसे दिग्गज दौरा करेंगे। पश्चिम उप्र की 14 लोकसभा सीटों के अंतर्गत 71 विस सीटों पर पार्टी कई बार मंथन कर चुकी है। इस क्षेत्र की 19 ऐसी सीटों पर पार्टी की खास नजर है, जिसे वह 2017 विस चुनाव में नहीं जीत पाई थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.