Meerut CoronaVirus Alert: कोरोना के बढ़ते मामले बढ़ा रहे धड़कन, अधिकारियों ने कहा- कोरोना है कायम, रहें सतर्क

कोरोना के बढ़ते मामलो को लेकर कमिश्‍नर ने दिया निर्देश।

कई राज्यों में कोरोना के फिर से बढ़ते मामलों को देखते हुए मेरठ की कमिश्नर ने मंडल के सभी जनपदों के जिलाधिकारी और सीएमओ को निरंतर निगरानी और प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। कहा कि कोरोना को लेकर लोगों को सतर्क किया जाए।

Himanshu DwivediThu, 25 Feb 2021 12:56 PM (IST)

मेरठ, जेएनएन। कई राज्यों में कोरोना के फिर से बढ़ते मामलों को देखते हुए कमिश्नर ने मंडल के सभी जनपदों के जिलाधिकारी और सीएमओ को निरंतर निगरानी और प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। कमिश्नर अनीता सी मेश्रम ने बताया कि दो सप्ताह से देश के विभिन्न प्रदेशों में कोरोना के मामलों में वृद्धि हो रही है। जिसके मद्देनजर मेरठ मंडल के जनपदों में भी कोरोना के प्रभावी नियंत्रण हेतु निरंतर समीक्षा, निगरानी और सतर्कता की आवश्यक्ता है।

सभी जनपदों के डीएम और सीएमओ को पत्र जारी करके कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु निरंतर समीक्षा और अनुश्रवण सुनिश्चित करने, कोरोना की गुणवत्तापरक टेस्टिंग तथा कांटेक्ट ट्रेसिंग कराई जाये। इसकी नियमित रूप से समीक्षा की जाये। एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटरों को पूर्ण सक्रियता के साथ संचालित किया जाये। कोरोना से बचाव के दिशा निर्देशों के तहत शारीरिक दूरी, मास्क, सैनिटाइजेशन आदि का सख्ती से पालन कराया जाये। कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण लक्ष्य के मुताबिक सुनिश्चित किया जाये।

उन्होंने बताया कि मुख्य सचिव के निर्देश के तहत धार्मिक, राजनीतिक, वैवाहिक आदि कार्यक्रमों में भी कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहनना, शारीरिक दूरी, सीमित संख्या तथा सैनिटाइजेशन आदि का सख्ती से पालन कराने का निर्देश सभी जनपदों को दिया गया है।

आरटी-पीसीआर व एंटीजन की जांच न होने से असुविधा

मेडिकल कालेज में आरटी-पीसीआर व एंटीजन की जांच न होने से लोगों असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। जिससे ओपीडी व कोविड संक्रमण के संदेह पर जांच कराने मेडिकल पहुंच रहे मरीजों को असुविधा हो रही है। हालांकि मेडिकल कालेज के प्राचार्य ने बताया कि वीटीएम वायल खत्म होने आरटी-पीसीआर जांच प्रभावित हुई थी। जिसकी व्यवस्था कर ली गई है। शहर में जहां दस से बारह दिन पहले तक दो तीन लोगों में संक्रमण के मामले मिल रहे थे। वहीं अब पिछले चार से पांच दिनों से मामलों में तेजी आई है। जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। ऐसे में मेडिकल कालेज में फ्लू ओपीडी के पास बंद बने कोविड जांच बूथ को देखकर लोग निराश होकर लौट रहे हैं। वहीं मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा. ज्ञानेंद्र कुमार ने बताया कि आरटी-पीसीआर जांच में प्रयोग होने वाली वीटीएम वायल के न होने से जांच प्रभावित थी। जिसे मंगाकर बुधवार शाम तक व्यवस्था दुरुस्त करा दी गई है। नियमित एंटीजन जांच बंद कर दी गई है।

कोरोना के छह नए मरीज मिले, दो मौत

सीएमओ डा. अखिलेश मोहन के अनुसार बुधवार को कुल 4604 सैंपलों की जांच की गई। जिसमें से छह मरीजों में संक्रमण पाया गया। 15 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कि या गया है। जिससे कुल डिस्चार्ज मरीजों की संख्या 20816 पहुंच गई है। 616 सैंपलों की जांच पेंडिंग है। होम आइसोलेशन पर कुल 23 मरीज हैं। वहीं, आदर्श नगर सरधना की बुजुर्ग महिला और विजय लोक मवाना रोड निवासी एक बुजुर्ग महिला की मौत कोरोना संक्रमण से हुई है। जिससे कोरोना संक्रमण से अब तक मौत का आंकड़ा 409 पहुंच गया है। उधर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने टारगेट सैंपलिंग की है। कुल 1829 सैंपल लिए हैं जिनमें एक भी केस नहीं मिला है। सीएमओ अखिलेश मोहन के अनुसार गुरुवार को 60 बूथों पर 5538 लोगों को टीके लगाए जाएंगे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.