Meerut Corona News: मेरठ के लिए बड़ी राहत की बात, मेडिकल कालेज में 400 बेडों पर अब सिर्फ एक मरीज

मेरठ मेडिकल कालेज में आइसीयू में ब्लैक फंगस मिलाकर 11 मरीज भर्ती हैं जिसमें सिर्फ एक कोविड पाजिटिव है। दो दिनों से नए कोरोना मरीज की भर्ती नहीं हुई है। मेडिसिन विभाग के डा. अरविंद ने बताया कि दूसरी लहर में 70 फीसद से ज्यादा लोग संक्रमित हुए थे।

Prem Dutt BhattMon, 21 Jun 2021 02:30 PM (IST)
मेरठ में कोरोना का दौरान फिलहाल थमा, फंगस वार्ड में कोई नई भर्ती नहीं।

मेरठ, जेएनएन। Meerut Corona News यह मेरठवासियों के लिए राहत की खबर है कि कोरोना का तूफान फिलहाल थम गया है। 400 कोविड बेडों वाले मेडिकल कालेज में अब सिर्फ एक मरीज रह गया है। निजी अस्पतालों में कई में मरीज नहीं रह गए हैं। उधर, ब्लैक फंगस वार्ड में भी किसी नए मरीज की भर्ती नहीं हुई। मेडिकल कालेज के कोविड वार्ड प्रभारी डा. धीरज राज ने बताया कि कोरोना वार्ड की एक आइसीयू बंद कर दी गई है, जिसमें पीडियाट्रिक आइसीयू बनेगी।

यह है तस्‍वीर

दूसरी आइसीयू में ब्लैक फंगस मिलाकर 11 मरीज भर्ती हैं, जिसमें सिर्फ एक कोविड पाजिटिव है। दो दिनों से किसी नए कोरोना मरीज की भर्ती नहीं हुई है। मेडिसिन विभाग के डा. अरविंद ने बताया कि दूसरी लहर में 70 फीसद से ज्यादा लोग संक्रमित हो गए, जिससे हर्ड इम्युनिटी बन गई। इसीलिए वायरस कमजोर पड़ गया है। दूसरी लहर में मेडिकल कालेज में भर्ती मरीजों में मौत की दर 40 फीसद तक पार कर गई। लेकिन मई के अंत से वायरस कमजोर पडऩे लगा। जून के दूसरे सप्ताह तक मरीजों की संख्या तेजी से घटी। माना जा रहा है कि एक-दो दिन में वार्ड पूरी तरह कोरोना-फ्री हो जाएगा।

आन स्पाट टीकाकरण अभियान, आप भी कराएं वैक्‍सीनेशन

मेरठ में कोरोना टीकाकरण सोमवार को नए चरण में प्रवेश करेगा। माइक्रोप्लान के मुताबिक जिले में चार क्लस्टर बनाए गए हैं, जहां पहुंचने वाले हर व्यक्ति को वैक्सीन दी जाएगी। कुल 68 टीमों की तैनाती की गई है। इसके लिए पहले से कोई स्लाट बुक कराने की जरूरत नहीं होगी। इसे एक जुलाई से घर-घर होने वाले टीकाकरण का पायलट प्रोजेक्ट भी माना जा रहा है। उधर, सीएमओ डा.अखिलेश मोहन ने बताया कि तीन दिन तक टीकाकरण के लिए आनलाइन पंजीकरण होगा। इसके बाद 50 फीसद के लिए आन स्पाट टीकाकरण की संभावना है।

ऐसे बनाई है योजना

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. प्रवीण गौतम ने बताया कि माछरा, जानी, सरूरपुर में 20-20 हजार और लखीपुरा में आठ हजार की आबादी पर कैंप लगाया जाएगा। यहां सोमवार से टीकाकरण का विशेष अभियान शुरू किया जा रहा है। 18 साल से ज्यादा उम्र वालों को तत्काल टीका लगाया जाएगा। डा. गौतम ने बताया कि यह विशेष अभियान टीकाकरण की दिशा में बड़ा कदम होगा। बताया कि 45 साल से ज्यादा उम्र वालों के लिए 55 और 18-44 साल वालों के लिए 43 कैंप लगाए जा रहे हैं। इस प्रकार रोजाना करीब 30 हजार लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। क्लस्टर में 13400 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य है, जबकि 18-44 वर्ष के नौ हजार और 45 साल से ज्यादा उम्र वालों में से आठ हजार को वैक्सीन लगेगी। कुल मिलाकर सोमवार से 166 टीमें फील्ड में सक्रिय होंगी।

दो माह में 16 लाख को लगाई जाएगी वैक्सीन

स्वास्थ्य विभाग की योजना के मुताबिक अगस्त माह तक जिले की पूरी आबादी का टीकाकरण कर लिया जाएगा। अब तक करीब सात लोगों को टीका लगाया गया है। 18 साल से ज्यादा उम्र की जिले में कुल 23 लाख आबादी है, जिसमें 16 लाख लोग बच रहे हैं। उन्हें जुलाई-अगस्त में कवर कर लिया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.