मेरठ : नसबंदी करवाने के बाद बिगड़ी हालत, उपचार के दौरान महिला की मौत, स्वजन का हंगामा

Death In Meerut मेरठ के सरधना में एक सीएचसी केंद्र में महिला की नसंबदी के बाद हालत बिगड़ गई और बाद में उसकी मौत हो गई। महिला की मौत से क्षुब्‍ध स्‍वजन ने जमकर हंगामा किया और डाक्‍टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया।

Prem Dutt BhattFri, 24 Sep 2021 01:30 PM (IST)
मेरठ में सरधना में नसबंदी के बाद महिला की हालत बिगड़ने से मौत हो गई।

मेरठ, जागरण संवाददाता। मेरठ के सरधना में तहसील रोड स्थित सीएचसी में नसबंदी के बाद महिला की शुक्रवार सुबह मेडिकल कालेज में उपचार के दौरान मौत हो गई। जानकारी मिलने पर स्वजन व आशा कार्यकर्ता सीएचसी पहुंचे और हंगामा किया। हालांकि, इस दौरान कुछ लोगों ने समझाने का प्रयास किया। लेकिन, एक नहीं मानी। स्वजन ने अधिकारियों से आर्थिक सहायता की मांग की है। महिला की मौत के बाद स्‍वजन जांच की मांग कर रहे हैं।

सीएचसी में कराया था भर्ती

सलावा निवासी बृजेश पत्नी विरेंद्र ने बताया कि वह आशा कार्यकर्ता हैं। उन्होंने बताया कि बीते सोमवार को अपने पुत्रवधु राखी को सीएचसी में नसंबदी के लिए भर्ती करवाया था। आरोप है कि नसबंदी होने के बाद चिकित्सकों की लापरवाही से हालत बिगड़ने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया था। लेकिन, वहां भी उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ है। इस पर चिकित्सकों ने मेडिकल में रेफर कर दिया था। जहां, राखी की शुक्रवार सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई।

डाक्‍टरों पर लापरवाही का आरोप

इस पर स्वजन और आशा शुक्रवार को सीएचसी पहुंचे औैर चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। सीएचसी प्रभारी डा. अमित त्यागी ने बताया कि चिकित्सकों की कोई लापरवाही नहीं है। उसी दिन रेफर कर दिया गया था। अगर उन्हें लगता है तो उच्चअधिकारियों से बात करके जांच टीम गठित की जाएगी। महिला की मौत की जांच कराई जा सकती है। महिला के स्‍वजन जांच की मांग अड़े हुए हैं।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.