मेरठ : दुष्कर्म पीड़िता को दी आरोपितों ने जान से मारने की धमकी, एसपी ने दिए जांच के निर्देश

मेरठ में दंबगों का दुस्‍साहस बढ़ता ही जा रहा है। एक दुष्कर्म पीड़िता को आरोपित पक्ष जान से मारने की धमकी दे रहा है। जिसकी वजह से उसका क्षेत्र में रहना दूभर हो गया है। मुकदमा दर्ज होने के बावजूद भी पुलिस ने उसे अभी तक गिरफ्तार नहीं किया।

Prem Dutt BhattWed, 16 Jun 2021 09:30 AM (IST)
मेरठ में दुष्‍कर्म पीड़िता को जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं।

मेरठ, जेएनएन। मेरठ में एक दुष्कर्म पीड़िता को आरोपित पक्ष लगातार जान से मारने की धमकी दे रहा है। जिसकी वजह से उसका क्षेत्र में रहना दूभर हो गया है। पांच महीने पहले मुकदमा दर्ज होने के बावजूद भी पुलिस ने उसे अभी तक गिरफ्तार नहीं किया। जिसकी वजह से आरोपितों के हौसले बुलंद हो रहे है। पीड़िता की शिकायत पर एसपी ने कार्रवाई के निर्देश दिए है।

यह है मामला

खरखौदा थाना क्षेत्र के बिजली बंबा बाईपास स्थित एक कालोनी निवासी विवाहिता के मुताबिक क्षेत्र में ही रहने वाले इरफान व नोफिल ने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था। उस समय भी अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर काटने के बाद थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। पीड़िता के मुताबिक करीब पांच महीने बीत जाने के बावजूद भी पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार नहीं किया। जिसकी वजह से वह क्षेत्र में खुलेआम घूम रहे है। तीन दिन पहले पीड़िता बाजार जा रही थी। उसी दौरान दोनों आरोपितों ने पीड़िता को रोक लिया और मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने लगे। महिला का शोर सुनकर आसपास के लोग एकत्र हो गए। जिन्हें देखकर आरोपित फरार हो गए। शिकायत पत्र देने के बावजूद भी पुलिस ने मुकदमा तक दर्ज नहीं किया। एसपी क्राइम राम अर्ज का कहना है कि खरखौदा थाना प्रभारी को मामले में जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए गए है।

किशोरी आत्महत्या मामले में आरोपित गिरफ्तार नहीं

पल्लवपुरम क्षेत्र में छेड़छाड़ से परेशान किशोरी के आत्महत्या मामले में नामजद एक आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है, जबकि अभी पांच ओर आरोपित फरार हैं। पुलिस उन्हें गिरफ्तार नही कर पाई है। पल्लवपुरम क्षेत्र में नौ जून को एक किशोरी ने अपने घर में गेट बंद कर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मृतका के स्वजन का आरोप था कि पड़ोस में रहने वाले दूसरे संप्रदाय के युवक अक्सर किशोरी को आते-जाते परेशान करते थे। नौ जून को किशोरी के स्वजन बाहर गए थे, तभी मौका पाकर आरोपित युवक उनके घर में घुस गए और छेड़छाड़ की। परेशान हो किशोरी ने पंखे से फांसी लगा आत्महत्या कर ली थी। किशोरी के भाई ने छह आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कराया, जिसमें पुलिस ने मुख्य आरोपित शिवा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इंस्पेक्टर देवेश कुमार शर्मा का कहना है कि विवेचना जारी है। जल्द ही और भी कार्रवाई होगी।

छेड़छाड़ से छात्रा परेशान घर से निकलना दुश्वार

मनचले पड़ोसी भाइयों की छेड़छाड़ के चलते छात्रा का घर से निकलना दुश्वार हो गया है। आरोप है कि पुलिस कार्रवाई करने का तैयार नहीं है। बता दें कि लालकुर्ती थाना क्षेत्र निवासी एक युवती बीबीए द्वितीय वर्ष की छात्रा है। पड़ोसी भाई उसे काफी समय से परेशान कर रहे हैं। वे युवती का पीछा करते हैं व फोटो खींचते हैं। बात न मानने पर बदनाम करने व फर्जी फोटो इंटरनेट मीडिया पर वायरल करने की धमकी देते हैं। एक बार फिर पीडि़ता ने एसएसपी कार्यालय में शिकायत कर कार्रवाई की मांग की। दिवस अधिकारी एसपी क्राइम रामअर्ज ने थाना पुलिस को कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

समझौता नहीं करने पर धमकी

लिसाड़ी गेट क्षेत्र निवासी महिला मंगलवार को एसएसपी कार्यालय पहुंची व बताया कि पड़ोसी युवक उसे परेशान करता है। सप्ताहभर पहले उसका रास्ता रोककर अभद्रता की थी। आरोप है कि समझौता न करने पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.