मेरठ के लिए राहत की बात, चार महीने के बाद शहर में शून्य हुए डेंगू और कोरोना के मामले

Meerut Coronavirus News मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि रविवार को 3805 सैंपलों की कोविड जांच की गई जिनकी रिपोर्ट निगेटिव मिली। ओमिक्रोन के संक्रमण को देखते हुए कोरोना जांच के आंकड़े उत्साहवर्धक हैं। लेकिन फिर भी सावधानी बरती जाएगी।

Prem Dutt BhattMon, 06 Dec 2021 08:30 AM (IST)
मेरठ में अगस्त के बाद पहली बार डेंगू का कोई मरीज नहीं।

मेरठ, जागरण संवाददाता। कोरोना और डेंगू के डबल अटैक के बीच रविवार को मेरठ में स्वास्थ्य विभाग ने सुकून की सांस ली है। 18 अगस्त के बाद रविवार यानी पांच दिसंबर को डेंगू का कोई मरीज नहीं मिला। वहीं, कोविड जांच रिपोर्ट में भी आंकड़ा शून्य रहा। स्वास्थ्य विभाग ने सभी को मास्क लगाने, भीड़भाड़ से बचने, हाथ धोने और विदेश से आए लोगों के संपर्क में आने से बचने के लिए कहा है।

रिपोर्ट निगेटिव मिली

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि रविवार को 3805 सैंपलों की कोविड जांच की गई, जिनकी रिपोर्ट निगेटिव मिली। ओमिक्रोन के संक्रमण को देखते हुए कोरोना जांच के आंकड़े उत्साहवर्धक हैं। डाक्टरों का कहना है कि देश के विभिन्न क्षेत्रों में कोविड संक्रमित बढ़ रहे हैं, ऐसे में चिंता जरूर है। शासन के निर्देश पर संस्थानों, अस्पतालों और स्टेशनों पर केंद्रित सैंपलिंग बढ़ा दी गई है। वहीं, जिले में डेंगू का भी कोई नया रोगी नहीं मिला।

डेंगू के 1597 केस रिकवर

पिछले माह एक दिन में डेंगू के 30 से ज्यादा मरीज मिल रहे थे। जिले की रिपोर्ट के मुताबिक रविवार तक डेंगू के 1597 केस रिकवर हो गए। 11 मरीज अस्पतालों में और 34 अपने घरों पर इलाज करा रहे हैं। अब तक जिले में डेंगू संक्रमितों का आंकड़ा 1642 पहुंच चुका है। ग्रामीण क्षेत्र में 743 और शहरी क्षेत्र में 879 मरीज मिल चुके हैं। सर्वाधिक 122 मरीज मलियाना और 121 मरीज कंकरखेड़ा में मिले हैं।  

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.