Muzaffarnagar Panchayat Election 2021 Polling: छिटपुट झड़प के बीच 73 फीसदी मतदान, फर्जी वोट डालने में मारपीट- आठ घायल

मुजफ्फरनगर में यूपी के दूसरे चरण का चुनाव।

Muzaffarnagar Panchayat Chunav 2021 बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच पंचायत चुनाव के लिए 73 फीसदी वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। एक-दो जगह छिटपुट झड़प को छोड़कर जिले में शांतिपूर्ण मतदान हुआ। झगड़े की आशंका के चलते कई प्रत्याशियों को पुलिस ने नरजबंद किया।

Himanshu DwivediMon, 19 Apr 2021 08:03 AM (IST)

मुजफ्फरनगर, जेएनएन। LIVE Muzaffarnagar Panchayat Chunav 2021: बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच पंचायत चुनाव के लिए 73 फीसदी वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। एक-दो जगह छिटपुट झड़प को छोड़कर जिले में शांतिपूर्ण मतदान हुआ। झगड़े की आशंका के चलते कई प्रत्याशियों को पुलिस ने नरजबंद किया। वार्ड 10 पर फर्जी वोट की सूचना पर एकत्र हुए लोगों पर पुलिस ने लाठी भांजी और कई युवकों को हिरासत में लिया।

पंचायत चुनाव के मतदान को लेकर सुबह से वोटरों में उत्साह दिखाई दिया। जिले की 498 ग्राम पंचायत के अधिकतर बूथों पर वोटर मतदान के लिए सुबह सात बजे से पहले ही पहुंच गए। मोरना क्षेत्र के मजलिसपुर तौफीर गांव में ग्रामीण सुबह छह बजे ही लाइन में लग गए। उनका कहना था कि दूर खेतों में गेहूं कटाई के लिए जाना है। स्टेटिक मजिस्ट्रेट व पीठासीन अधिकारी से समय से पहले मतदान शुरू करने की अपील की। जिले के 1060 मतदान केंद्र व 2976 मतदेय स्थल पर सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ। जिला पंचायत सदस्य की 43 सीटों के लिए 744 प्रत्याशी, बीडीसी के लिए 4376, प्रधानी के लिए 4388 व ग्राम पंचायत सदस्य के लिए 3410 प्रत्याशियों के पक्ष में वोटरों ने मत डाले। जिले में कुल 73 फीसदी मतदान हुआ। हालांकि कई मतदान केंद्रों व बूथों पर 90 फीसदी से अधिक वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। लाइन में लगने के चलते शारीरिक नियम की जमकर धज्जियां उड़ी। कुछ ही बूथों पर सैनिटाइजर और थर्मल स्केनिंग की व्यवस्था रही। कमिश्नर एवी राजमौलि, डीआइजी उपेंद्र अग्रवाल, जिला निर्वाचन अधिकारी सेल्वा कुमारी जे., एसएसपी अभिषेक यादव ने मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। सभी मतदान केंद्रों पर पुलिस बल तैनात रहा। वार्ड-10 के पीआर पब्लिक स्कूल और गीता आश्रम बूथ पर कुछ लोगों ने फर्जी मतदान का आरोप लगाया, जिससे भीड़ एकत्र हो गई। पुलिस ने लाठी भांजकर भीड़ को खदेड़ा। वहीं भैंसी गांव के प्रधान पद के तीन प्रत्याशियों को पुलिस ने नजरबंद किया। वहीं खतौली, जानसठ, मोरना, बुढ़ाना के 11 बूथों पर रात तक मतदान हुआ।

बूथ पर मत-पत्र बिखरे, वीडियो वायरल

भोपा के एक बूथ पर मत-पत्र जमीन पर बिखरे होने का वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। वीडियो में पीठासीन समेत मतदानकर्मी लापरवाही की हदें पार कर रहे हैं। मतपेटियों में ठीक से मत-पत्रों को नहीं रखा जा रहा है। कई मत-पत्र चुनाव के बाद जमीन में बिखरे पड़े हैं। वहीं एक महिला का वीडियो वायल हो रहा है, जिसमें महिला कह रही है कि मतदान के लिए हाथोहाथ आधार कार्ड बनाए जा रहे हैं। इन आधार कार्ड से महिला वोटिंग की बात स्वीकार रही है। सेक्टर मजिस्ट्रेट व डीएफओ सूरज ने बताया कि भोपा के बूथ पर गए थे। प्रत्याशियों को कुछ गलतफहमी हो गई थी, उन्हें समझा दिया है।

मारपीट में आठ घायल 

जंधेड़ी जाटान में फर्जी वोट डालने को लेकर प्रधान पद के प्रत्याशियों और समर्थकों में मारपीट हो गयी। दोनों पक्ष से आठ लोग घायल हो गए, जिन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया है। जंधेड़ी जाटान गांव में कृष्ण पाल पुत्र रामचंद्र और विनय कुमार पुत्र सुंदर प्रधान पद के प्रत्याशी हैं। शाम को फर्जी वोट डालने को लेकर दोनों पक्षों में मारपीट हो गयी। प्रधान पद प्रत्याशी विनय, रोहित पुत्र चमन व सुंदरपाल पुत्र समती, जबकि दूसरी ओर से प्रधान पद प्रत्याशी कृष्ण पाल, सूरज पुत्र ब्रजवीर, सचिन पुत्र सतवीर, विजेंद्र पुत्र कालू, विजेंद्र पुत्र गरीबदास घायल हो गए। पुलिस ने लोगों को समझाकर शांत किया। उधर, खानजहांपुर गांव में नाबालिग से वोट डलवाने का आरोप लगाते हुए लोगों ने हंगामा किया। मोहिउद्दीनपुर गांव में भी फर्जी वोट डलवाने को लेकर लोगों में बहस हो गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को काबू में किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.