सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को उड़ाने की धमकी भरा पत्र फर्जी निकला

सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को उड़ाने की धमकी भरा पत्र फर्जी निकला

सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को बम से उड़ाने की धमकी भरा पत्र फर्जी निकला।

JagranFri, 23 Apr 2021 01:45 AM (IST)

मेरठ,जेएनएन। सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को बम से उड़ाने की धमकी भरा पत्र फर्जी निकला। पत्र पर जिन दो लोगों के मोबाइल नंबर अंकित थे, सíवलास और एसटीएफ की टीम ने उनसे करनाल में पूछताछ की। दोनों सरकारी विभाग में नौकरी करते हैं। पुलिस के अनुसार उनसे रंजिश निकालने के लिए किसी ने फर्जी पत्र फेंका था। पत्र किसने फेंका इसका पता नहीं चल पाया है।

सैन्य क्षेत्र में फैमिली क्वार्टर को बम से उड़ाने की धमकी भरे पत्र की पुलिस ने जांच की। एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि पत्र पर करनाल के रहने वाले संतप्रकाश और जयदीप के मोबाइल नंबर अंकित थे। पत्र में लिखा था कि दोनों किसी आतंकी संगठन से जुड़े हुए हैं। पुलिस की जाच में सामने आया कि दोनों करनाल के रहने वाले हैं और सरकारी विभाग में नौकरी करते हैं। पड़ताल में यह भी सामने आया कि दोनों लोग करनाल से अपने रिश्तेदार से मिलने के लिए मेरठ आते रहते हैं। पुलिस ने उनके रिश्तेदारों से भी पूछताछ कर ली है। जाच में ऐसा प्रतीत हुआ कि दोनों से निजी रंजिश निकालने के लिए किसी ने मेरठ के सैन्य क्षेत्र में पत्र फेंका था। बता दें कि चार दिन पहले सेना के अफसरों ने एसपी सिटी को यह संदिग्ध पत्र जाच के लिए सौंपा था।

युवक से दिनदहाड़े मोबाइल लूटा: थाना क्षेत्र के अथवा गांव के पास गुरुवार को दिनदहाड़े मेरठ-करनाल हाईवे पर बाइक सवार बदमाशों ने युवक से मोबाइल लूट लिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों से पूछताछ की। पीड़ित ने तहरीर दी है।

जसोल गांव निवासी कुलदीप शर्मा पुत्र श्रीनिवास दौराला मिल के कार्यालय में काम करता है। वह गुरुवार दोपहर को मेरठ-करनाल हाईवे से बाइक पर सवार होकर कार्यालय जा रहा था। जब वह बहादरपुर संपर्क मार्ग से कुछ दूरी पर पहुंचा तो इसी दौरान पीछे से बाइक पर सवार होकर दो बदमाश आए और उसे रोक लिया। इसके बाद पिस्टल से आतंकित कर उसका मोबाइल लूटकर फरार हो गए। पीड़ित ने एक राहगीर के मोबाइल से चचेरे भाई विनोद को सूचना दी। वहीं, पहुंची पुलिस ने बदमाशों की तलाश की। लेकिन, सुराग नहीं लगा। खबर लिखे जाने तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ था। एसओ समर बहादुर सिंह ने बताया कि मामले की कोई सूचना नहीं है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.