Electricity Theft: मेरठ में अब नहीं बचेंगे बिजली चोरी करने वाले, होगी कानूनी कार्रवाई, अभियान शुरू

Electricity theft in Meerut गुरुवार सुबह पांच बजे उपखंड अधिकारी तृतीय पंकज उपाध्याय अवर अभियंता दुष्यंत के कुशवाहा परविंदर के नेतृत्व में बिजली विभाग की टीम ने सदर व बेगमपुल बिजलीघर के क्षेत्र में कोतवाली क्षेत्र में चेकिंग अभियान चलाया गया।

Taruna TayalThu, 16 Sep 2021 05:16 PM (IST)
बिजली चोरी करने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई।

मेरठ, जेएनएन। बिजली चोरी करने वालों पर पीवीवीएनएल कानूनी कार्रवाई करेगा। इसके लिए मार्निंग रेड अभियान शुरू हो गया। गुरुवार सुबह पांच बजे उपखंड अधिकारी तृतीय पंकज उपाध्याय, अवर अभियंता दुष्यंत, के कुशवाहा, परविंदर के नेतृत्व में बिजली विभाग की टीम ने सदर व बेगमपुल बिजलीघर के क्षेत्र में, कोतवाली क्षेत्र में चेकिंग अभियान चलाया गया। जिसमें पांच लोग बिजली चोरी करते पाए गए। उपखंड अधिकारी मनोज कुमार के नेतृत्व में अवर अभियंता मुकेश ने एल ब्लाक उपकेंद्र के क्षेत्र अंतर्गत ज़ाकिर कालोनी में चेकिंग अभियान के दौरान तीन लोग विद्युत चोरी करते पकड़े गए। सभी लोगों के विरूद्ध विद्युत अधिनियम की धारा-135 के तहत बिजली थाना कंकरखेड़ा में प्राथमिकी दर्ज कराकर विधिक कार्यवाही करा दी गयी है। अधिशासी अभियंता नगरीय विधुत वितरण खंड द्वितीय सोनू रस्तोगी ने कहा की बिजली चोरी रोकने के लिए विभाग द्वारा बिजली चोरी करने वालों के विरूद्ध आगे भी सख्त विधिक कार्रवाई की जाएगी।

बिजली दर कम करने समेत कई मांगों को लेकर धरना

भारतीय किसान यूनियन तोमर के कार्यकर्ताओं ने बिजली दरों को कम करने समेत कई मांगों को लेकर गुरुवार को तहसील में धरना शुरू। वहीं गन्ने का पेराई सत्र शुरू होने से पहले टूटी सड़कों को दुरुस्त कराने की मांग उठाई। संगठन के कार्यकर्ता जिला मीडिया प्रभारी अनिल चिकारा के नेतृत्व में बिजली की बढ़ी दरों को वापसा लेने, गन्ना सीजन आरंभ होने से पूर्व मीवा मार्ग स्थित कूड़ी की झाल वाले रास्ते को बनवाने आदि मांगों को तहसील में तहसील पहुंचे और परिसर में धरना शुरू कर दिया। इस दौरान अनिल चिकारा ने बताया कि मवाना से कूड़ी की झाल तक एक सिंगल रास्ता है और गन्ना मिल चलने के बाद आए दिन वहां पर दुर्घटनाएं होती हैं। जबकि पीडब्ल्यूडी विभाग से यह पास हो चुका है। लेकिन यह मार्ग अभी तक नहीं बना है। इसके अलावा गन्ना भुगतान भी समय पर नही मिल रहा है। बिजली की दरें बहुत बढ़ी हुई हैं। वहीं हस्तिनापुर में मीटर लगाने के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है। वक्ताओं ने उक्त समस्याओं के समाधान की मांग उठाई।

मौके पर पहुंचे एसडीएम कमलेश गोयल को डीएम के नाम ज्ञापन सौंपने के बाद समाप्त हुआ। धरने पर राजबीर सिंह, पवन त्यागी, वीरपाल, अजय त्यागी, इंद्रजीत सिंह, राहुल आदि थे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.