top menutop menutop menu

बढ़ाएं मान, सैनिकों-आश्रितों के लिए दें दान

बढ़ाएं मान, सैनिकों-आश्रितों के लिए दें दान
Publish Date:Sun, 08 Dec 2019 04:00 AM (IST) Author: Jagran

मेरठ, जेएनएन । सशस्त्र सेना झंडा दिवस के कार्यक्रम शनिवार से शुरू हो गए। सात दिसंबर को झंडा दिवस मनाते हुए जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी ने मंडलायुक्त अनीता सी मेश्राम तथा जिलाधिकारी अनिल ढींगरा को झंडा लगाकर झंडा दिवस पुस्तिका सौंपी गई। कमिश्नर और डीएम ने लोगों से अपील की कि सेना के सम्मान में सशस्त्र सेना के झंडे के बदले लोग ज्यादा से ज्यादा राशि दान दें। इस राशि से सैनिकों और उनके आश्रितों के कल्याण के कार्य कराए जाएंगे।

जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कर्नल आर के शर्मा ने सबसे पहले कमिश्नर अनीता सी मेश्राम के कार्यालय में उन्हें झंडा लगाया। इसके बाद जिलाधिकारी को झंडा लगाया। कमिश्नर ने कहा कि झंडा दिवस पर दान की गई राशि से शहीद सैनिकों के परिवारों की मदद की जाती है, दान की यह राशि आयकर से मुक्त होती है। डीएम अनिल ढींगरा ने कहा कि हमारी सेना संसार की सर्वश्रेष्ठ सेना है। उन्हीं सैनिकों के दम पर देश की करोड़ों जनता बेफिक्र रहती है। झंडा दिवस ऐसा मौका है जब जनता सेना के प्रति अपना कर्तव्य पूरा कर सकती है। कर्नल आर के शर्मा ने बताया कि झंडा दिवस के अवसर पर ही हम अपने सैनिकों और उनके परिवार का आभार व्यक्त कर सकते हैं। उन्होंने सभी सरकारी, अ‌र्द्ध सरकारी विभागों, संस्थाओं और नागरिकों से दान की अपील की। जमा धनराशि को चेक अथवा बैंक ड्राफ्ट से विभागीय बैंक खाते में जमा कराया जाएगा। दस दिसंबर को लेंगे मानवाधिकार संरक्षण की शपथ

मेरठ : अपर जिलाधिकारी नगर अजय तिवारी ने बताया कि 10 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के रूप में मनाया जाता है। मानवाधिकार के संरक्षण के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए शासन ने समस्त सरकारी विभागों, निगमों, शिक्षण संस्थानों में अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा शपथ लेने का निर्णय लिया गया है। कलक्ट्रेट स्थित बचत भवन में सुबह 11 बजे सभी कर्मचारी अधिकारी संयुक्त रूप से शपथ ग्रहण करेंगे। ट्रेजरी में नीलामी 9 दिसंबर को

मेरठ : मुख्य कोषाधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि कार्यालय में पड़े बेकार फर्नीचर और अन्य सामग्री की नीलामी कराने का आदेश डीएम ने दिया है। उसी के तहत 9 दिसंबर को कार्यालय परिसर में ही नीलामी प्रक्रिया का आयोजन किया जाएगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.