मेरठ में वन विभाग ने अधूरी तैयारी से किया पेड़ों का कटान, लगा दो किलोमीटर लंबा जाम

मेरठ में रूड़की रोड पर लगा जाम

इन दिनों मेरठ में रैपिड रेल का कार्य चल रहा है। रूड़की रोड और हाईवे किनारे पुराने पेड़ों को वन विभाग काट रहा है लेकिन कटान कब और कौन सी लेन में होना है यह जानकारी विभाग ने थाने को नहीं दी। इससे दो किलोमीटर तक जाम लग गया ।

PREM DUTT BHATTThu, 25 Feb 2021 02:16 PM (IST)

 मेरठ, जेएनएन। रैपिड रेल की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। रैपिड रेल के लिए रूड़की रोड और हाईवे किनारे पुराने पेड़ों को वन विभाग लगातार काट रहा है। लेकिन, विभाग की आधी-अधूरी तैयारियों की वजह से गुरुवार को रूड़की रोड पर भीषण जाम लग गया। छठी वाहिनी पीएसी के नाले के आसपास पेड़ काटे जा रहे थे। सोफीपुर से मोदीपुरम फ्लाईओवर तक करीब दो किमी लंबा भीषण जाम लग गया। वन विभाग का एक भी कर्मचारी सड़क पर मौजूद नहीं था, जो पेड़ कटान के समय ट्रैफिक रोकता और उसके बाद कतारबद्ध वाहनों को निकालकर जाम से निजात दिलाता। सिर्फ पल्लवपुरम पुलिस के दो सिपाही जाम से जूझते देखे गए।

रैपिड रेल के लिए रूड़की रोड पर लेखानगर से मोदीपुरम की ओर दोनों तरफ लगातार पेड़ों का कटान जारी है। मेट्रो ट्रेन के पिलर और मिट्टी परीक्षण का भी कार्य जोरों पर है। वहीं गुरुवार को छठी वाहिनी पीएसी नाले के पास और कोणार्क कालोनी सामने पेड़ों का कटान किया जा रहा था। पीएसी नाले के आसपास इमली का वर्षों पुराना पेड़ और कोणार्क कालोनी के सामने यूकेलिप्टिस के पेड़ काटे जा रहे थे। ट्रैफिक को एक लेन पर डायवर्ट करने के लिए वन विभाग के कर्मचारी मौजूद नहीं था। जिस वजह से मेरठ से मोदीपुरम की ओर जाने वाली लेन के अलावा बेगमपुल आने वाली लेन पर भी भीषण जाम लग गया। जहां डिवाइडर में कट था, वहां आसपास के लोग सड़क पर निकले तो वाहनों की कतार दूर तक लगती चली गई। हालात इस कदर हो गए कि सोफीपुर से डौरली गेट तक पहुंचने में आधा घंटे से अधिक का समय लगा। बाद में दो पुलिसकर्मियों ने किसी तरह वाहनों को निकाला और जाम खुलवाया।

 इनका कहना है

 पेड़ों का कटान कब और कौन सी लेन में होना है, इसकी जानकारी वन विभाग ने थाने को नहीं दी। वन विभाग का एक भी कर्मचारी ट्रैफिक डायवर्ट करने और जाम खुलवाने में भी नहीं था। 

देवेश कुमार शर्मा, इंस्पेक्टर-पल्लवपुरम।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.