मुजफ्फरनगर में दो विवाहित सहेलियों का मतांतरण करा किया निकाह, थाने पहुंचे हिंदू संगठन बोले- लव जिहाद

संप्रदाय विशेष के दो युवक खुद को ङ्क्षहदू बताकर हमीरपुर जनपद से दो विवाहित सहेलियों को बहला फुसलाकर यहां ले आए और मतांतरण कराकर निकाह कर लिया। हमीरपुर से दो विवाहित सहेलियों को बहला-फुसलाकर ले आए थे। खुद को बताया था हिंदू पुलिस ने दोनों महिलाओं को बरामद किया।

Taruna TayalWed, 23 Jun 2021 10:39 PM (IST)
मुजफ्फरनगर में दो महिलाओं का मतांतरण करा किया निकाह।

मुजफ्फरनगर, जेएनएन। संप्रदाय विशेष के दो युवक खुद को ङ्क्षहदू बताकर हमीरपुर जनपद से दो विवाहित सहेलियों को बहला फुसलाकर यहां ले आए और मतांतरण कराकर निकाह कर लिया। सभासद के पति की शिकायत के बाद पुलिस ने एक विवाहिता को बरामद किया तो उसने अपनी सहेली के बारे में बताया। पुलिस ने उसे भी बरामद कर लिया। थाने लाकर दोनों से पूछताछ की जा रही है। आरोपित फरार हैं। हमीरपुर में दोनों विवाहिताओं को भगाने का मुकदमा दर्ज है। मतांतरण की जानकारी मिलने पर ङ्क्षहदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने लव जिहाद का आरोप लगाते हुए हंगामा किया और कड़ी कार्रवाई की मांग की। एक आरोपित ने वार्ड सभासद अनिता के लेटर पैड पर विवाहिता का मूल निवास प्रमाण पत्र तक बनवा लिया।

मोहल्ला श्यामपुरी, पंजाबी कालोनी निवासी मोनू खान उर्फ वसीम खान पुत्र मोहम्मद यासीन के घर में रह रही महिला को देखकर लोगों को शक हुआ। सूचना पर कोतवाली पुलिस वहां पहुंची और जांच-पड़ताल कर महिला को थाने ले आई। इंस्पेक्टर यशपाल ङ्क्षसह ने बताया कि वसीम खान दो साल से हमीरपुर में रह रहा था। वसीम ने इस महिला को प्रेमजाल में फंसाया और खतौली लाकर मतांतरण कराने के बाद 10 जनवरी 2020 को उसके साथ निकाह कर लिया। इसके बाद हमीरपुर चला गया। स्वजन को पता चला तो उन्होंने आनन फानन में बेटी की शादी 30 नवंबर 2020 को मध्य प्रदेश के जनपद सतना के एक गांव में कर दी। महिला जब 2021 में होली पर मायके आई तो उसने वसीम से संपर्क किया। इसके बाद वह दिल्ली पहुंची और फिर खतौली आकर वसीम के साथ रहने लगी। आरोपित के घर से विवाहिता के मतांतरण, निकाह और खतौली का मूल निवास प्रमाण-पत्र बरामद हुआ है। महिला के पिता ने वसीम के खिलाफ हमीरपुर जनपद के राठ थाना में बहला-फुसलाकर भगा लेने जाने का मुकदमा दर्ज करा रखा है। विवाहिता ने पुलिस को बताया कि उसकी एक विवाहित सहेली को भी संप्रदाय विशेष का युवक खुद को ङ्क्षहदू बताकर ले आया था और मतांतरण कराकर निकाह कर लिया है। पुलिस ने मोहल्ला नई आबादी बस्ती में हिजबुर रहमान पठान के घर दबिश देकर दूसरी विवाहिता को भी बरामद कर लिया। इस महिला के स्वजन ने भी हमीरपुर जनपद के थाना राठ में पांच वर्ष पूर्व आरोपित हिजबुर रहमान पठान के विरुद्ध बहला-फुसलाकर ले जाने का मुकदमा दर्ज कराया था। इंस्पेक्टर ने बताया कि इससे पहले इस महिला का विवाह प्रोफेसर से हुआ था। पांच वर्ष पूर्व हिजबुर रहमान पठान प्रेम जाल में फंसाकर ले आया था। तीन साल उसे नागपुर में रखा और दो साल से खतौली में थी। उसका चार साल का बेटा भी है। पुलिस दोनों महिलाओं से पूछताछ कर रही है।

इन्होंने कहा

आरोपित कपड़े की फेरी लगाने का कार्य करते हैं। हमीरपुर से दोनों आरोपित विवाहित सहेलियों को प्रेम जाल में फंसाकर ले आए और मतांतरण कराकर निकाह कर लिया। हमीरपुर पुलिस और दोनों के स्वजन खतौली थाने बुलाए गए हैं। जांच की जा रही है। दोनों मुख्य आरोपित फरार है। पूछताछ के लिए दोनों आरोपितों के कुछ स्वजन को हिरासत में लिया गया है।

- राकेश ङ्क्षसह, सीओ खतौली।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.