दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Fight Against Covid-19: मेरठ के लिए बड़ी राहत, मेडिकल में 114 बेड खाली, वेंटीलेटर पर कोई मरीज नहीं

मेरठ में 114 बेड खाली होने से बड़ी राहत मिली है।

प्राचार्य डा. ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि सप्ताभर से स्थिति में सुधार हो रहा है जिसका असर अब दिखने लगा है। जिस मेडिकल कालेज में 15 दिन पहले तक वेटिंग थी वहां आइसीयू-1 और आइसीयू-2 में बेड उपलब्ध हो गया है।

Himanshu DwivediSat, 15 May 2021 09:26 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। कोरोना से मचा हाहाकार थमता नजर आ रहा है। भरोसा करना आसान नहीं कि मेडिकल कालेज के कोविड वार्ड में करीब सवा सौ से ज्यादा बेड खाली हैं। प्राचार्य डा. ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि सप्ताभर से स्थिति में सुधार हो रहा है, जिसका असर अब दिखने लगा है। जिस मेडिकल कालेज में 15 दिन पहले तक वेटिंग थी, वहां आइसीयू-1 और आइसीयू-2 में बेड उपलब्ध हो गया है। गत दिनों कोविड वार्ड में मरीजों की संख्या 350 पार कर गई थी, वहीं इस समय कुल मरीजों की संख्या 286 हो गई है। शुक्रवार को 30 मरीज भर्ती हुए और 32 डिस्चार्ज कर दिए गए। आक्सीजन पर 106 मरीज रखे गए हैं, जबकि लंबे समय बाद वेंटीलेटर पर कोई मरीज नहीं है।

प्राचार्य डा. ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि दोनों आइसीयू में कुल 24 बेड़ खाली हैं। वहीं पूरे मेडिकल कालेज में 114 बेड़ खाली हो गए हैं, जो बड़ी राहत की बात है। उन्‍होंने बताया कि कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए इससे बड़ी सुविधा होगी। बेड़ की वजह से मरीजों को तुरंत भर्ती करके इलाज शुरू किया जा सकेगा। उन्‍होंने यह भी बताया कि मेडिकल कालेज में रिकवरी रेट भी बढ़ रही है। लोग ज्‍यादा संख्‍या में डिस्‍चार्ज हो रहे हैं।  

वकीलों का टीकाकरण स्थगित

कोरोना से बचाव के लिए शुक्रवार को कचहरी परिसर में अधिवक्ताओं का टीकाकरण स्थगित हो गया। इसको लेकर मेरठ बार एसोसिएशन के महामंत्री सचिन चौधरी ने बताया कि 15 मई से 45 साल से अधिक उम्र के अधिवक्ताओं व उनके परिवार का टीकाकरण 14 न्यायालय भवन कचहरी स्थित बिल्डिंग में किया जाना था। जो किसी कारणवश स्थगित हो गया है। वैक्सीन लगने की कोई जल्दी तिथि निर्धारित होने को लेकर वार्ता होगी।

चुनाव ड्यूटी के बाद शिक्षक व शिक्षिका का कोरोना से निधन

ब्लाक के गांव बिजौली और मुंडाली स्थित परिषदीय स्कूल में तैनात शिक्षक और शिक्षिका की कोरोना वायरस ने जान ले ली। इससे शिक्षकों में शोक की लहर दौड़ गई। बीईओ तौसीफ अहमद ने बताया कि खरखौदा ब्लाक के मुंडाली प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक अजय शर्मा और बिजौली कंपोजिट विद्यालय की इंचार्ज जाहिदा बेगम की ड्यूटी पंचायत चुनाव में लगी थी। वहीं पर दोनों कोरोना संक्रमित हो गए। जाहिदा बेगम के स्वजन का कहना है कि मेरठ में उपचार न मिलने के कारण उन्हें आगरा के अस्पताल में भर्ती कराया था जहां उनकी मृत्यु हो गई। वहीं कोरोना संक्रमित प्रधानाध्यापक अजय शर्मा का भी निधन हो गया। बीईओ और समस्त शिक्षकों ने दुख व्यक्त किया है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.