यूपी : बुलंदशहर में आबकारी इंस्पेक्टर और दो सिपाही गिरफ्तार,शराब तस्‍कर से लाखों की डील का आरोप

बुलंदशहर में शराब तस्‍कर से डील के बाद छोड़ने के मामले में कार्रवाई हुई है।

यूपी के बुलंदशहर में खाकी और शराब तस्‍करों के गठजोड़ की परतें अब खुलती नजर आ रही हैं। गांव जीतगढ़ी में हुए शराब कांड के दिन अपमिश्रित शराब के साथ तस्कर को पकड़ने के बाद लाखों रुपये की डील के बाद उसे छोड़ने के मामले में बड़ा एक्‍शन लिया है।

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 10:40 AM (IST) Author: PREM DUTT BHATT

बुलंदशहर, जेएनएन। बुलंदशहर जिले के  गांव जीतगढ़ी में हुए शराब कांड के दिन अपमिश्रित शराब के साथ तस्कर को पकड़ने के बाद लाखों रुपये की डील के बाद उसे छोड़ने के मामले में बुलंदशहर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। आबकारी इंस्पेक्टर सुरेश सिंह चौहान, हेड कांस्टेबल खेम सिंह तथा सिपाही अनुज के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम व आबकारी अधिनियम के तहत के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है। रात में ही तीनों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है, जिन्हें दोपहर बाद मेरठ कोर्ट में पेश किया जाएगा। तीनों की निशानदेही पर आबकारी के गोदाम से ही शराब की वही आठ पेटी बरामद भी कर ली है।

एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि शुक्रवार को इंस्पेक्टर में अनूपशहर ने गांव अनिवार की धर्मशाला में दबिश डालकर शराब की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया था। मौके से विमल राघव नाम के तस्कर को पकड़ कर भारी मात्रा में शराब भी बरामद की थी। पूछताछ में विमल ने बताया कि आठ जनवरी को जब शराब कांड हुआ था तो उसके पास भी नोएडा की उसी फैक्ट्री कि आठ पेटी अपमिश्रित शराब आई थी। जब छापेमारी शुरू हुई तो विमल शराब को ठिकाने लगाने जा रहा था कि तभी आबकारी इंस्पेक्टर सुरेश सिंह चौहान तथा दो सिपाहियों ने उसकी वैगनआर गाड़ी को चेकिंग के उद्देश्य से रास्ते में रोक लिया।

गाड़ी से आठ पेटी शराब पकड़ कर उसे भी आबकारी गोदाम ले गए। वहां तीन घंटे बैठाने के बाद तीन लाख लिए और शराब को वहीं रख उसे छोड़ दिया गया था। एसएसपी ने बताया कि विमल की निशानदेही पर गोदाम से वही 8 पेटी शराब बरामद हो गई। इसके बाद आबकारी इंस्पेक्टर व दोनों सिपाहियों को गिरफ्तार कर लिया गया। इंस्पेक्टर अनूपशहर राम सेन सिंह की तरफ से तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.