खुद को मवाना थाने का सिपाही बताकर ठगे आठ हजार

कैराना थाना क्षेत्र के इस्सोपुर खुरगान निवासी व्यक्ति ने सिपाही पर पुत्र से तहसील में नौकरी लगवाने के नाम पर धोखाधड़ी कर आठ हजार रुपये की ठगी करने का आरोप लगाते हुए थाने पर तहरीर दी है।

JagranPublish:Thu, 02 Dec 2021 10:06 PM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 10:06 PM (IST)
खुद को मवाना थाने का सिपाही बताकर ठगे आठ हजार
खुद को मवाना थाने का सिपाही बताकर ठगे आठ हजार

मेरठ, जेएनएन। कैराना थाना क्षेत्र के इस्सोपुर खुरगान निवासी व्यक्ति ने सिपाही पर पुत्र से तहसील में नौकरी लगवाने के नाम पर धोखाधड़ी कर आठ हजार रुपये की ठगी करने का आरोप लगाते हुए थाने पर तहरीर दी है।

उक्त गांव निवासी इलियास पुत्र कामू ने गुरुवार को तहरीर देते हुए बताया कि कुछ दिन पहले गांव में सिपाही किसी मामले में जांच के लिए गांव में आया था। उसने अपना नाम हमीद बताते हुए खुद को थाना मवाना में तैनात बताया। वह उससे पहले भी फोन पर अक्सर बात करता था। बेटे जुबैर की तहसील मवाना में एसडीएम कार्यालय पर नौकरी लगवाने की बात कहते हुए 20 हजार रुपये मांगे। आरोप है कि गुरुवार शाम लगभग चार बजे जुबैर को हमीद ने नगर के फलावदा रोड स्थित चाय की दुकान पर बुला लिया तथा नौकरी लगवाने के लिए बीस हजार रुपये की मांग रखी, लेकिन उस समय जेब में रखे 8 हजार रुपये निकालकर उसे दे दिए। इसी बीच नदीम वहां कुछ देर में आने की बात कहते हुए उसे वही बैठा छोड़ गया, लेकिन देर शाम तक भी नही आया।

उधर थाना प्रभारी विष्णु कौशिक का कहना है कि हमीद नाम का कोई सिपाही थाने पर तैनात नही है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

ग्रामीणों को देख गोकुशी कर रहे आरोपित हुए फरार

जानी खुर्द : पेपला गांव के जंगल में गुरुवार सुबह ग्रामीणों को देख गोकुशी कर रहे आरोपित मौके से भाग निकले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके से गोवंशी अवशेष व गोकुशी में प्रयुक्त औजार व एक रिक्शा बरामद की है। पुलिस ने अज्ञात में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गुरुवार सुबह पेपला गांव के ग्रामीण खेत में काम करने के लिए जा रहे थे। इस दौरान जंगल में आहट होने पर ग्रामीण उस ओर पहुंचे। ग्रामीणों को आता देख गोकुशी कर रहे कुछ लोग मौके से भाग निकले। ग्रामीणों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल से गोवंशी अवशेष, गोकुशी में प्रयुक्त होने वाले औजार व एक रिक्शा बरामद की है। पुलिस ने मामले के संबंध में ग्रामीणों से पूछताछ की। पुलिस ने मौके से बरामद गोवंशी अवशेष को गड्ढे में दबवा कर अज्ञात आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।