Cheating On Facebook: फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर फंसाया जा रहा प्रेमजाल में, ब्लैकमेल होने से बचने के लिए ये करें

Cheating On Facebook फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर युवतियां झूठे प्रेमजाल में फंसाकर लोगों को ब्‍लैकमेल कर रही हैं। अकेले सहारनपुर में भी छह महीने के अंदर करीब 172 शिकायतें आ चुकी हैं। इसीलिए बेहद सावधानी बरतनी जरूरी है। साइबर सेल को सूचित करें।

Prem Dutt BhattTue, 21 Sep 2021 01:00 PM (IST)
फेसबुक के माध्‍यम से आजकल ठगी का प्रचलन ज्‍यादा ही बढ़ गया है।

सहारनपुर, जेएनएन। Cheating On Facebook इंटरनेट मीडिया पर अब नया ट्रेंड चल रहा है। इस प्लेटफार्म के माध्यम से नवयुवकों को कुछ युवतियां अपने झूठे प्रेमजाल में फंसाती है। इसके बाद उनकी अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने लगती है। खास बात यह है कि यह युवतियां बड़े घराने के युवकों को तलाशती है। ताकि वह अपनी इज्जत बचाने के लिए रकम को आसानी से दे सके। सहारनपुर के साइबर थाने के रिकार्ड की बात करें तो पिछले छह माह में 172 शिकायतें इसी तरह की आई है। जब पुलिस ने जांच की तो अधिकतर फेसबुक आइडी दिल्ली के रहने वाले युवकों ने बनाई हुई है। जबकि आइडी पर अमेरिका, रूस, जापान आदि की युवतियों की लगा दी जाती है।

ऐसे बनाती है ठगी का शिकार

फेसबुक के माध्यम से एक युवती के प्रेमजाल में फंसे हकीकतनगर के एक व्यापारी के बेटे ने बताया कि उसके पास करीब तीन माह पूर्व एक एलीना नाम की युवती की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। इस युवती ने मैसेंजर से उससे बात करनी शुरू कर दी। मैसेंजर पर उसने अपना वाट्सएप नंबर भेज दिया। कुछ दिन के बाद युवती वीडियो काल करने लगी। देखने में एलीना अमेरिका की लग रही थी। वह खुद को भी अमेरिका की बताती थी। एक दिन एलीना ने युवक से कहा कि वह बाथरूम में जाए और वीडियो काल करें। युवक ने ऐसा किया। कुछ देर के बाद युवक की वीडियो एलीना ने वाट्सएप पर भेज दी। जिसमें युवक अश्लील दिख रहा था और साथ में एलीना भी दिख रही थी। एलीना ने अपना पेटीएम नंबर भेजा और 30 हजार रुपये मांगे। जिसके बाद युवक ने साइबर थाने में शिकायत की। जिसकी जांच चल रही है।

इन बातों का रखें ध्यान

- फेसबुक पर अपने जान पहचान वाले दोस्तों की ही रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करें।

- अंजान युवती से कभी अश्लील होने के बाद वीडियो काल पर बात न करें।

- वाट्सएप पर कोई भी अपना फोटो या फिर अपने परिवार का फोन न भेजे।

- कोई आपकों ब्लैकमेल करें तो तत्काल साइबर थाना पुलिस को सूचित करें।

- अंजान व्यक्ति या फिर युवती-महिला को अपना नंबर शेयर न करें।

इनका कहना है

आजकल फेसबुक पर ब्लैकमेल करने के मामले बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं। आइपी एड्रस से पता करते है तो पता चलता है कि दिल्ली के किसी कंप्यूटर या फिर मोबाइल पर आइडी बनाई गई है। जिससे साफ है कि दिल्ली में कोई ऐसा गिरोह काम कर रहा है, जो ब्लैकमेल कर रहा है।

- प्रवीण कुमार, साइबर थाना प्रभारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.