CCSU Meerut News: अब स्नातक में वैकल्पिक विषय के रूप में होगी एनसीसी की पढ़ाई

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में अब एनसीसी को वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल करने की तैयारी है। देश के सभी विश्वविद्यालयों में एनसीसी को वैकल्पिक विषय के तौर पर शुरू करने के लिए एनसीसी महानिदेशालय ने अनुशंसा की थी। मेरठ विवि में भी यह लागू होगा।

Prem Dutt BhattSat, 12 Jun 2021 03:00 PM (IST)
मेरठ समेत प्रदेश के अन्य विश्वविद्यालयों में कोर्स शुरू करने के लिए कमेटी गठित।

मेरठ, जेएनएन। CCSU Meerut News विश्वविद्यालय और कालेजों में अभी तक एनसीसी को छात्र-छात्राएं एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटी के तौर पर लेते थे। इसका लाभ उन्हें आगे प्रवेश और नौकरियों में मिलता था। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में अब एनसीसी को वैकल्पिक विषय के रूप में शामिल करने की तैयारी है। देश के सभी विश्वविद्यालयों में एनसीसी को वैकल्पिक विषय के तौर पर शुरू करने के लिए एनसीसी महानिदेशालय ने अनुशंसा की थी। इस पर यूजीसी ने भी निर्देश किए हैं। एनसीसी ने इसका विस्तृत सिलेबस डिजाइन किया है।

पांच सदस्‍य किए नामित

उत्तर प्रदेश के विश्वविद्यालयों और कालेजों में एनसीसी को वैकल्पिक विषय के रूप में शुरू करने के लिए उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक की अध्यक्षता में बनी समिति में पांच सदस्य नामित किए गए हैं। समिति में चौधरी चरण सिंह विवि के सांख्यिकी विभाग के प्रोफेसर हरे कृष्ण और केएमजी पीजी कालेज, बादलपुर के डा. दिनेश शर्मा समन्वयक नामित हुए हैं। समिति को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2021-22 में एनसीसी को इलेक्टिव सब्जेक्ट के रूप में संचालित करने के लिए कार्ययोजना बनाने को कहा गया है। समिति ने एनसीसी को विश्वविद्यालय के अनुसार सिलेबस तैयार करने के लिए कहा है।

एनसीसी ने तैयार किया है 24 क्रेडिट का कोर्स

एनसीसी निदेशालय की ओर से अभी 24 क्रेडिट का कोर्स डिजाइन किया गया है। इलेक्टिव कोर्स में एनसीसी लेने पर छात्र की डिग्री में इस विषय का उल्लेख होगा। उसके क्रेडिट एकेडमिक में जुड़ जाएंगे। इस कोर्स में पहले से छठे सेमेस्टर तक एक थ्योरी और एक प्रैक्टिकल रखा है। तीसरे और पांचवें सेमेस्टर में पांच-पांच कैंप को जोड़ा गया है।

कामन सिलेबस के साथ स्पेशलाइजेशन

एनसीसी के सिलेबस में 14 टापिक कामन हैं। इसमें एनसीसी का परिचय, राष्ट्रीय एकता, ड्रिल, हथियारों की ट्रेङ्क्षनग, व्यक्तित्व विकास, नेतृत्व, आपदा प्रबंधन, सामाजिक सेवा, हेल्थ, एडवेंचर, पर्यावरण जागरूकता जैसे विषय लिए हैं। इसके अलावा आर्मी, नेवी और एयरफोर्स के विशेष कोर्स में मैप रीङ्क्षडग, हथियारों के रखरखाव, संचालन आदि पढ़ाया जाएगा। आर्मी, नेवी, एयरफोर्स को अलग-अलग सेमेस्टर में शामिल किया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.