परिर्वतन संकल्प रैली में जुट जाने का आह्वान

राष्ट्रीय लोकदल की सात दिसंबर को गांव में होने वाली परिवर्तन संकल्प रैली को सफल बनाने के लिए प्राचीन शिव मंदिर में पंचायत का आयोजन किया गया।

JagranPublish:Sun, 28 Nov 2021 07:55 PM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 08:25 PM (IST)
परिर्वतन संकल्प रैली में जुट जाने का आह्वान
परिर्वतन संकल्प रैली में जुट जाने का आह्वान

मेरठ, जेएनएन। राष्ट्रीय लोकदल की सात दिसंबर को गांव में होने वाली परिवर्तन संकल्प रैली को सफल बनाने के लिए प्राचीन शिव मंदिर में पंचायत का आयोजन किया गया। इस मौके पर रालोद नेता व कार्यकर्ताओं ने रैली को सफल बनाने का आह्वान किया।

रालोद के क्षेत्रीय अध्यक्ष यशवीर सिंह, मीडिया संयोजक सुनील रोहटा पूर्व जिला अध्यक्ष राहुल देव, जिला अध्यक्ष मतबूल गौड, उत्तराखंड प्रभारी राम गुर्जर व संजय चौधरी आदि ने पंचायत को संबोधित करते हुए सभा को सफल बनाने के लिए ग्रामीणों की बैठक की। उन्होंने बताया कि सात दिसंबर को सिवालखास विधानसभा क्षेत्र के गांव दबथुवा में रालोद व सपा की संयुक्त परिवर्तन संकल्प रैली होने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। रैली में रालोद के अध्यक्ष जयंत सिंह व सपा अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहुंचेंगे।

पंचायत की अध्यक्षता घनघण खाप के प्रदेश अध्यक्ष सुखपाल सिंह ने और संचालन रामबोस ने किया। वहीं, सपा जिला अध्यक्ष राजपाल सिंह, संजीव यादव, राजवीर पूनिया, युसूफ सैफी ने सभा स्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान दीपक गून, सुबोध मलिक, नदीम चौहान, प्रताप लोइया, रामफल, अजित बना, सोहित त्यागी, कुलवंत सोलंकी, संजय पनवाड़ी, संजय चौधरी, सोनू किनौनी, रतन सिंह, धर्मेंद्र, कृष्णपाल, मास्टर सतपाल, नेपाल सिंह, जगवीर सिंह, रणवीर दहिया, विनय, चंद्रपाल रतौली, सोनू गुर्जर, संजय पनवाड़ी, विक्रम सिंह, सौदान सिंह, शैलेंद्र सिंह, कंवरपाल आदि सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

आज विशेष अभियान चला भरे गए 22 सौ घोषणा-पत्र

मवाना : गन्ना समिति की ओर से क्षेत्र के गांवों में रविवार को किसानों से घोषणा-पत्र भरवाने के लिए विशेष अभियान चलाया गया, जिसमें शाम चार बजे तक 22 सौ किसानों ने घोषणा-पत्र भरे हैं। किसानों को हर हाल में 30 नवंबर तक पोर्टल पर अनिवार्य रूप से घोषणा पत्र भरने के निर्देश दिए गए हैं।

गन्ना समिति मवाना के ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक सौवीर सिंह ने बताया कि रविवार को समिति क्षेत्र के 202 गांवों में किसानों के घोषणा पत्र भरवाने के लिए चीनी मिल व समिति के कर्मचारियों ने संयुक्त रूप से अभियान चलाया। इसमें 98 कर्मचारियों को लगाया गया। जिसमें गन्ना पर्यवेक्षक, समिति लिपिक व चीनी मिल के कामदार लगाए गए। बताया कि आज विशेष अभियान में शाम चार बजे तक 2200 घोषणा पत्र भरे जा चुके थे। किसानों को प्रेरित किया जा रहा है कि वे 30 नवंबर तक अपना घोषणा पत्र पोर्टल पर अनिवार्य रूप से भर दें, अन्यथा उन्हें उपज बढ़ोत्तरी, अतिरिक्त सट्टा व अन्य विभागीय सुविधाओं को रोकने के साथ ही सट्टा बंद करने की कार्रवाई की जाएगी।