लूट का सोना खरीदने पर सर्राफ पकड़ा, व्यापारियों का हंगामा

लूट का सोना खरीदने पर सर्राफ पकड़ा, व्यापारियों का हंगामा

बुलंदशहर जिले के शिकारपुर में सर्राफ से लाखों का सोना लूटने के मामले में मंगलवार को पुलिस ने एक आरोपित को दबोच लिया।

JagranWed, 24 Feb 2021 06:55 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। बुलंदशहर जिले के शिकारपुर में सर्राफ से लाखों का सोना लूटने के मामले में मंगलवार को पुलिस ने एक आरोपित को दबोच लिया। पूछताछ में उसने बताया कि लूटा गया सोना मेरठ के जैना ज्वैलर्स के यहां बेचा है। बुलंदशहर पुलिस उसे लेकर मेरठ पहुंची। इसके बाद शोरूम मालिक को सदर बाजार थाने ले आए। इसकी जानकारी पर व्यापारी और भाजपा नेता भी थाने पहुंच गए और वहां खूब हंगामा हुआ। पूछताछ के बाद फिलहाल शोरूम मालिक को छोड़ दिया गया।

शिकारपुर निवासी सर्राफ अतुल गुप्ता का बाजार में शोरूम है। गत तीन दिसंबर को चार लुटेरों ने शोरूम पर धावा बोलकर 30-35 लाख रुपये के सोने-चांदी के जेवर लूट लिए थे। मंगलवार को पुलिस ने एक बदमाश को दबोच लिया। उसने बताया कि लूटा सोना मेरठ में आबू प्लाजा स्थित जैना ज्वैलर्स के यहां बेचा है। टीम उसे लेकर पहले सदर बाजार थाने पहुंची और फिर स्थानीय पुलिस के साथ शोरूम पर। पूछताछ के लिए पुलिस शोरूम मालिक रोहित जैन को सदर बाजार थाने ले आई। इसकी सूचना पर पदाधिकारियों के साथ संयुक्त व्यापार संघ वशिष्ठ गुट के अध्यक्ष अजय गुप्ता, भाजपा नेता दीपक शर्मा आदि पहुंच गए। उन्होंने कहा कि सर्राफ से शोरूम में ही पूछताछ हो सकती थी। लुटेरे के कहने पर जीप में लेकर आना गलत है। बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के महामंत्री विजय आनंद और अन्य नेता भी पहुंचे। उन्होंने भी विरोध जताते हुए हंगामा किया। कहा कि लूट का सोना खरीदने का आरोप गलत है। लुटेरे ने बाद में दूसरे मालिक को सोना देने की बात कही। पता किया तो अंकुर जैन के मुरादाबाद में होने की बात सामने आयी। ऐसे में आरोप कहीं सिद्ध नहीं होते। हालांकि बाद में पुलिस बदमाश को लेकर बुलदंशहर लौट गई। एएसपी कैंट सूरज राय ने बताया कि सोना लूट के आरोपित को लेकर बुलंदशहर पुलिस आई थी। एक सर्राफ से पूछताछ की गई थी, जिसे बाद में छोड़ दिया गया।

20 लाख का सोना खरीदने का आरोप

विजय आनंद ने बताया कि लुटेरे ने 20 लाख रुपये का सोना बेचने का आरोप लगाया है। पुलिस को पहले सच्चाई जानने के लिए पड़ताल करनी चाहिए थी। यह फर्म को बदनाम करने की साजिश है। इसलिए इसका विरोध किया गया।

आरोप बेबुनियाद

जैना ज्वैलर्स ग्रुप के मालिक अतुल जैन ने कहा कि चोरी का सोना खरीदने का आरोप बेबुनियाद है। हमारे यहां न तो बिना बिल के माल खरीदा जाता है न बेचा जाता है। यह षड्यंत्र के तहत आरोप मढ़ा जा रहा है। पुलिस हर स्तर से निष्पक्ष जांच कर ले, दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा। 'दोबारा ऐसी कार्रवाई बर्दाश्त नहीं होगी'

संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष अजय गुप्ता ने कहा कि बुलंदशहर की पुलिस की कार्रवाई का विरोध किया गया था। बाहर की पुलिस को भले ही जानकारी नहीं हो, लेकिन सदर बाजार पुलिस ने भी स्थानीय व्यापारियों से संपर्क नहीं किया। प्रतिष्ठित व्यापारी को जीप में बैठाकर थाने लाना भी गलत था। बुलियन ट्रेडर्स या फिर संयुक्त व्यापार संघ से बातचीत करके व्यापारी को थाने बुलाया जा सकता था। भविष्य में ऐसा दोबारा होता है, तो सख्त कदम उठाया जाएगा। इसकी शिकायत एसएसपी-एडीजी से भी की गई थी। आज 11 बजे थाना पुलिस के साथ व्यापारियों की बैठक है, जिसमें अपना पक्ष रखा जाएगा। वहीं, संयुक्त व्यापार संघ के महामंत्री दलजीत सिंह ने कहा कि लुटेरे की बात पर विश्वास करके प्रतिष्ठित व्यापारी को ऐसे थाने नहीं लाना चाहिए था। इस दौरान प्रदीप शर्मा, सुधीर रस्तोगी, अंकित आदि पहुंच गए थे।

व्यापारी की तबीयत बिगड़ी

रोहित जैन को जब पुलिस थाने ले आई तो सूचना पर उनके पिता अतुल जैन भी पहुंच गए थे। बातचीत के दौरान अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई। बीपी कम होने से घबराहट होने लगी थी। इस पर मौजूद व्यापारियों ने पहले उनको पानी पिलाया गया। इसके बाद उनके पास मौजूद दवाई दी गई। कुछ देर उनको अलग बैठाया गया। थोड़ी देर बाद उनकी तबीयत में सुधार हो गया। घंटे भर चले हंगामे के बाद वह स्वजन के साथ घर लौट गए थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.