विधि मंत्री ने कहा- सीएम के समक्ष रखें बेंच की मांग

पश्चिम उत्तर प्रदेश में हाई कोर्ट बेंच की मांग को लेकर हाईकोर्ट बेंच स्थापना केंद्रीय संघर्ष समिति के छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को दिल्ली में केंद्रीय विधि मंत्री किरेन रिजिजू से मुलाकात की। मंत्री के समक्ष पश्चिम उत्तर प्रदेश में बेंच स्थापना को लेकर अपना पक्ष रखा।

JagranSun, 28 Nov 2021 10:43 AM (IST)
विधि मंत्री ने कहा- सीएम के समक्ष रखें बेंच की मांग

मेरठ, जेएनएन। पश्चिम उत्तर प्रदेश में हाई कोर्ट बेंच की मांग को लेकर हाईकोर्ट बेंच स्थापना केंद्रीय संघर्ष समिति के छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को दिल्ली में केंद्रीय विधि मंत्री किरेन रिजिजू से मुलाकात की। मंत्री के समक्ष पश्चिम उत्तर प्रदेश में बेंच स्थापना को लेकर अपना पक्ष रखा।

समिति चेयरमैन महावीर सिंह त्यागी की अध्यक्षता में गए प्रतिनिधिमंडल ने पश्चिम उत्तर प्रदेश के 22 जनपदों की आबादी, लंबित मुकदमों की संख्या, मेरठ से प्रयागराज की दूरी आदि को लेकर अपनी बात मंत्री के समक्ष रखी।

बकौल चेयरमैन महावीर सिंह त्यागी, विधि मंत्री ने कहा कि हाई कोर्ट बेंच की स्थापना एक राजनीतिक निर्णय है। इस पर राजनीतिक रूप से चर्चा के बाद ही कोई घोषणा की जाएगी। मंत्री ने इस मसले पर मुख्यमंत्री से वार्ता करने का सुझाव दिया।

प्रतिनिधिमंडल में शामिल पूर्व अध्यक्ष नरेंद्रपाल सिंह, सुमंत जैन अध्यक्ष मुजफ्फरनगर सिविल बार, आदेश श्रीवास्तव अध्यक्ष मुरादाबाद बार एसोसिएशन, मनोज भाटी अध्यक्ष नोएडा बार एसोसिएशन ने भी बेंच को लेकर अपनी बात मंत्री के समक्ष रखी।

प्रतिनिधिमंडल में शामिल मेरठ बार एसोसिएशन के महामंत्री सचिन चौधरी ने बताया कि विधि मंत्री ने सुलभ न्याय की पैरवी की और देश-विदेश के कई उदाहरण भी दिए।

राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग को समाप्त करने की मांग

मेरठ : राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के गठन को लेकर एक चितन सभा सूरजकुंड कार्यालय में महर्षि वाल्मीकि अंबेडकर संयुक्त विचार मंच ने आयोजित की। जिसमें राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग को समाप्त करने की मांग की गई। चितन सभा में बोलते हुए मंच के महामंत्री चौधरी सुंदरलाल भूरंडा ने कहा कि भारत सरकार की सिफारिश पर एनआर मलकानी द्वारा तीन वर्षों के अध्ययनों व अथक प्रयासों के उपरांत वर्ष 1984 में अन्य शक्तिशाली आयोग की भांति वाल्मीकि समाज एवं सफाई कर्मचारियों के विकास व उत्थान का मार्ग प्रशस्त करने के लिए राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग का गठन किया गया था। लेकिन यह आयोग मुंगेरीलाल के हसीन सपने जैसा सिद्ध हुआ। महर्षि वाल्मीकि अंबेडकर संयुक्त विचार मंच ने आवाज उठाई है कि राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग को समाप्त करके केंद्र सरकार अधिकारों से सशक्त आयोग का पुन: गठन करे। ताकि वाल्मीकि समाज का विकास और उत्थान हो सके। चितन सभा की अध्यक्षता सेठ हरिमोहन भाटिया की। सभा में बड़ी संख्या में वाल्मीकि समाज के लोग एकत्र हुए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.