दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

बागपत : DPRO की गाड़ी से हो रही थी शराब की तस्करी, चालक गिरफ्तार

बागपत में जिला पंचायत राज अधिकारी की गाड़ी से शराब तस्‍करी का मामला आया है।

बागपत के जिला पंचायत राज अधिकारी (डीपीआरओ) की गाड़ी से शराब की तस्करी का सनसनीखेज राजफाश हुआ है। पुलिस ने गाड़ी से शराब बरामद कर चालक को गिरफ्तार किया है। हरियाणा से बड़े स्तर पर शराब की तस्करी होती है। पुलिस जांच कर रही है।

Prem Dutt BhattSun, 09 May 2021 11:40 PM (IST)

बागपत, जेएनएन। हरियाणा से बागपत के जिला पंचायत राज अधिकारी (डीपीआरओ) की गाड़ी से शराब की तस्करी का सनसनीखेज राजफाश हुआ है। पुलिस ने गाड़ी से शराब बरामद कर चालक को गिरफ्तार किया है।  हरियाणा से बड़े स्तर पर शराब की तस्करी होती है। तस्कर पुलिस व आबकारी टीम से बचने के लिए तरह-तरह के हथकंड़े अपनाते हैं। अफसरों की गाड़ी का भी शराब तस्करी में इस्तेमाल किया जाता है। रविवार को यूपी-हरियाणा बार्डर की निवाड़ा चौकी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गाड़ी को रोककर चेकिंग की तो गाड़ी में देशी शराब की पेटियां हरियाणा मार्का बरामद हुई। मामला अफसर की गाड़ी से जुड़ा होने के कारण पुलिस मामले को दबाने के प्रयास में जुट गई थी। मामला डीएम राजकमल यादव के संज्ञान में पहुंचा तो पुलिस गाड़ी को कोतवाली लेकर पहुंची और आरोपित चालक को गिरफ्तार किया है।

45 हजार में सौदा, मुखबिर को मात्र दो हजार तो खोल दी पोल

पुलिस और गाड़ी के चालक के बीच मामले को रफा-दफा करने के लिए 45 हजार रुपये में सौदा हो गया था गाड़ी में शराब होने की सूचना देने वाले व्यक्ति को पुलिसकर्मियों ने मात्र दो हजार रुपये लेकर चुप बैठने का लालच दिया, लेकिन रुपये कम होने की वजह से व्यक्ति ने पुलिस का प्रस्ताव ठुकरा दिया। उसने अफसरों व मीडिया को पूरे मामले से अवगत कराया। आखिर में पूरे मामले की पोल खुल गई। पुलिस अफसरों ने मामले की जानकारी से इंकार किया है।

अफसर बोले आउटसोर्सिग की है गाड़ी

कार्यवाहक कोतवाली प्रभारी सतेंद्र सिंह सिद्धू का कहना है कि हमीदाबाद उर्फ नयागांव निवासी कृष्ण ने आउट सोर्सिंग पर अपनी गाड़ी सरकारी विभाग में लगा रखी है। कृष्ण डीपीआरओ को करीब छह बजे डीएम की मीटिंग में छोड़कर गाड़ी लेकर चला गया था। उसकी गाड़ी में चेकिंग के दौरान शराब मिली है। कृष्ण को गिरफ्तार कर लिया गया है। डीपीआरओ कुमार अमरेंद्र का कहना है कि गाड़ी में शराब तस्करी का मामला उनके संज्ञान में नहीं है। गाड़ी आउटसोर्सिग की है। चालक उनको गाड़ी से डीएम की मीटिंग में लेकर गया था। मीटिंग खत्म होने पर उनको गाड़ी नहीं मिली काल की तो चालक ने अवगत कराया कि गाड़ी के टायर में पंक्‍चर गया है। वह दूसरे अधिकारी की गाड़ी से अपने घर पहुंचे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.