आजम को अब पता चला कानून के हाथ लंबे हैं : सिद्धार्थनाथ

प्रदेश के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा मंत्री व प्रभारी मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने सपा नेता व सांसद आजम खां पर हमला बोला। कहा कि अब तक आजम को लगता था कि कानून के हाथ लंबे नहीं होते किंतु अब उन्हें धारणा बदल लेनी चाहिए।

JagranSat, 03 Aug 2019 06:00 AM (IST)
आजम को अब पता चला कानून के हाथ लंबे हैं : सिद्धार्थनाथ

मेरठ, जेएनएन। प्रदेश के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा मंत्री व प्रभारी मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने सपा नेता व सांसद आजम खां पर हमला बोला। कहा कि अब तक आजम को लगता था कि कानून के हाथ लंबे नहीं होते, किंतु अब उन्हें धारणा बदल लेनी चाहिए। दावा किया कि पिछली सरकारों में जनता का संसाधन और अधिकार हड़पने वालों को कानून के मुताबिक पूरी सजा मिलेगी। शुक्रवार को सिद्धार्थनाथ सिंह भाजपा महानगर इकाई द्वारा जीरो माइल पर शिवाजी स्मारक पर आयोजित सदस्यता अभियान में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे थे। उन्होंने ई-रिक्शा व रिक्शा चालकों को मिस्ड कॉल के जरिए भाजपा का सदस्य बनाया। कल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी बताया।

सिद्धार्थनाथ ने कहा कि सदस्यता अभियान समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंच रहा है। बताया कि बारिश के बावजूद सभी रिक्शा चालक सदस्य बनने के लिए उत्साहित हैं जो पार्टी की ताकत दिखाती है। महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, कैंट विधायक सत्य प्रकाश अग्रवाल, एमएलसी सरोजनी अग्रवाल, करुणेश नंदन गर्ग, संजय त्रिपाठी, ललित नागदेव, संजीव गुप्ता, अजय गुप्ता, सतीश गर्ग, महेश बाली, युवा मोर्चा अध्यक्ष वीनस शर्मा, प्रवक्ता अमित शर्मा व महिला मोर्चा अध्यक्ष वर्षा कौशिक समेत कई अन्य शामिल रहे।

सिद्धार्थनाथ:::: ध्यान रखना..कुलदीप सेंगर जैसा कोई कांड न हो जाएजासं, मेरठ: प्रभारी मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने सर्किट हाउस में भाजपाइयों के साथ देर तक मंथन किया। प्रदेश में सियासी हलचल की चर्चा के दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं को आगाह किया कि कुलदीप सेंगर जैसे कांड की पुनरावृत्ति कतई न होने पाए। कहा कि सेंगर को पार्टी ने तभी सस्पेंड कर दिया था, किंतु यह प्रकरण पार्टी का पीछा नहीं छोड़ रहा है। आगाह किया कि ऐसी घटनाओं से संगठन को भी नुकसान होता है। अधिकारियों को दी नसीहत..महानगर अध्यक्ष की सुनें सिद्धार्थनाथ

मेरठ: सर्किट हाउस में शुक्रवार को भाजपाइयों से चर्चा कर रहे थे। पदाधिकारियों ने प्रभारी मंत्री से अधिकारियों की शिकायत की। कहा कि कई अधिकारी फोन तक नहीं उठाते। इस पर सिद्धार्थनाथ ने जिलाधिकारी, एसएसपी समेत सभी अधिकारियों से कहा कि वो महानगर अध्यक्ष की सुनें। संगठन का ओहदा जनप्रतिनिधियों से बड़ा होता है। मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वो महानगर अध्यक्ष से समस्याओं पर परामर्श करें, इसके बाद ही प्रभारी मंत्री तक पहुंचें। नगर आयुक्त को बारिश में नगर की सफाई पर विशेष फोकस करने के लिए कहा। आगाह किया कि जलजमाव एवं मच्छरों से कई बीमारियां फैलती हैं, जिसके लिए निगम एवं स्वास्थ्य विभाग मिलकर काम करेगा। डीएम एवं एसएसपी से बेहतर प्रशासन की अपेक्षा जताई। इस दौरान महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल, महामंत्री संजय त्रिपाठी, देवेंद्र गुर्जर, दीपक शर्मा व आशीष सिंह समेत कई अन्य शामिल रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.