top menutop menutop menu

ऑडियो वीडियो वायरल का मामला, भाजपा में सियासी घमासान थमा लेकिन तल्खियां अभी बाकी Meerut News

मेरठ, जेएनएन। सरधना के भाजपा विधायक संगीत सोम और श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला के आपसी संबंधों में आरोप-प्रत्यारोप से हुई किरकिरी के बाद अब दोनों ने सुलह की पहल करते हुए विवाद का पटाक्षेप करने का दावा किया है। विधायक संगीत सोम और भराला बंधुओं ने कहा कि वो पार्टी की छवि खराब करने वाला कोई भी कदम नहीं उठाएंगे। उधर, संगठन ने कहा कि थोड़ी गलतफहमियां थीं, जो सुलझा ली गई हैं।

लगाए गए थे कई संगीन आरोप

विधायक और सुनील भराला के बीच जुबानी जंग में भाई अजय भराला भी शामिल हुए थे। इस दौरान सोम और अजय की ऑडियो वायरल हुई, जिसमें एक दूसरे पर कई संगीन आरोप लगाए गए थे। बाचतीत में कई बार भाषाई मर्यादा लांघी गई। उसकी क्लिप वायरल होने पर प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने क्षेत्रीय अध्यक्ष अश्विनी त्यागी और जिलाध्यक्ष अनुज राठी से रिपोर्ट तलब की थी। साथ ही विधायक और भराला को एक साथ बैठाकर मामले पर पूर्ण विराम लगाने के लिए कहा था।

क्षेत्रीय अध्यक्ष ने की थी बैठक

क्षेत्रीय अध्यक्ष अश्विनी त्यागी ने बुधवार को क्षेत्रीय कार्यालय पर संगीत सोम, सुनील भराला, अजय भराला के साथ बैठक की। जिलाध्यक्ष अनुज राठी और किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष अतुल त्यागी ने आडियो वायरल करने वाले किसान मोर्चा के मंडल अध्यक्ष सुभाष गुर्जर को फिलहाल पद से मुक्त कर दिया है। पदमुक्त मंडल अध्यक्ष सुभाष गुर्जर ने गुरुवार को मवाना में गुर्जर व सैनी समाज संग बैठक की। बाद में क्षेत्रीय अध्यक्ष अश्विनी त्यागी से मिल विधायक और अजय के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की। सुभाष ने कहा कि सोम और भराला ने ऑडियो में अमर्यादित शब्दों में हमला किया, और पार्टी ने गाज मंडल अध्यक्ष पर गिरा दी। सवाल किया कि दिग्गजों पर एक्शन लेने में पार्टी क्यों डर रही है। सुभाष ने कहा कि वो प्रदेश अध्यक्ष और मुख्यमंत्री से भी मिलेंगे।

इनका कहना है

दोनों ही पक्षों को साथ बैठाकर आपस में सुलह करा दी गई है। पार्टी की साख से कोई भी खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं होगा। सभी संयम रखेंगे।

- अश्विनी त्यागी, क्षेत्रीय अध्यक्ष भाजपा

---------

मैं और भराला बंधु सभी पार्टी के लिए काम करते हैं। अपने संगठन की साख ऊंची रखेंगे। अब किसी से कोई मलाल नहीं रह गया है। सब साथ हैं।

- संगीत सोम, विधायक, सरधना

----------

हम सब अनुशासन प्रिय भाजपा के सिपाही हैं। ऐसे में भाषा पर संयम जरूरी है। प्रदेश व क्षेत्रीय इकाई से संवाद हुआ है। कोई झगड़ा नहीं रहा।

- सुनील भराला, अध्यक्ष,श्रकप

---------

नोटिस जारी करने की मांग

अजय भराला की बिट्टू नाम के एक व्यक्ति से हुई बात वायरल हुई थी। उसके बाद उसी व्यक्ति ने अजय से जान का खतरा बताया था। अजय भराला ने इसपर गुरुवार को एडीजी से मुलाकात कर मामले की जांच की मांग की। अजय ने कहा कि वो पार्टी की हर बात मानेंगे, लेकिन गलती दूसरी ओर से पहले हुई है। उधर, किसान मोर्चा मंडल अध्यक्ष पद से हटे सुभाष ने प्रदेश इकाई से संगीत सोम और अजय भराला के खिलाफ नोटिस जारी करने की मांग की। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.