50 हजार सहायता राशि के लिए आज से करें आवेदन

कोरोना संक्रमण के शिकार होकर जान गंवाने वाले लोगों के स्वजन को सरकार ने 50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने का निर्णय किया है। इसके लिए गुरुवार दो दिसंबर से आवेदन किए जाएंगे।

JagranPublish:Thu, 02 Dec 2021 07:21 AM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 07:21 AM (IST)
50 हजार सहायता राशि के लिए आज से करें आवेदन
50 हजार सहायता राशि के लिए आज से करें आवेदन

मेरठ, जेएनएन। कोरोना संक्रमण के शिकार होकर जान गंवाने वाले लोगों के स्वजन को सरकार ने 50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने का निर्णय किया है। इसके लिए गुरुवार दो दिसंबर से आवेदन किए जाएंगे। आवेदन फार्म कलक्ट्रेट और तहसील कार्यालयों में स्थित दैवीय आपदा अनुभाग में जमा कराए जा सकेंगे।

शासन से आदेश प्राप्त होने के बाद बुधवार को जिलाधिकारी के बालाजी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के शिकार होकर मृत्यु को प्राप्त होने वाले लोगों का विवरण कोविड पोर्टल (यूपी कोविड 10 ट्रैक डाट इन) पर दर्ज है। उन सभी के स्वजन आर्थिक सहायता प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप पर अपना आवेदन दो दिसंबर गुरुवार को अपने-अपने तहसील कार्यालय अथवा कलक्ट्रेट में दैवीय आपदा अनुभाग में जमा करा सकते हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि शासन द्वारा निर्धारित प्रारूप पर ही आवेदन करना होगा। आवेदन का यह प्रारूप भी वहीं से प्राप्त होगा। जनपद की वेबसाइट मेरठ डाट एनआइसी डाट इन से भी इसे डाउनलोड किया जा सकता है।

भारत को जानना है तो संस्कृत को जानना आवश्यक

मेरठ : भारत को वास्तविकता में जानना है तो संस्कृत का ज्ञान होना बहुत आवश्यक है। उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान द्वारा आयोजित आनलाइन सरल संस्कृत संभाषण वर्ग में छात्रों ये बातें मेरठ के प्रशिक्षक सचिन शर्मा ने कहीं। उन्होंने बताया यह वर्ग 29 नवंबर से 22 दिसंबर 20 दिन संचालित किया जा रहा है। इस वर्ग में संस्थान के 37 संस्कृत भाषा प्रशिक्षकों द्वारा 37 आनलाइन कक्षाओं में 1561 छात्रों को संस्कृत पढ़ना व बोलना सिखाई जाएगी। उनकी कक्षा प्रतिदिन शाम सात बजे से आठ तक गूगल मीट एप के माध्यम से आयोजित की जा रही है। वर्ग के समापन पर परीक्षा के बाद सभी प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र भी प्रदान किए जाएंगे। संस्कृत भाषा जन-जन की भाषा बनें यही वर्ग का मुख्य उद्देश्य है।