यूपी के हर जिले में ओलिंपियन तलाशेगा एएफआइ, मेरठ की प्रियंका गोस्वामी के प्रदर्शन को अति उत्कृष्ट करार दिया

मेरठ की प्रियंका गोस्‍वामी के टोक्‍यो में प्रदर्शन के बाद नई कवायद शुरू हो गई है। एएफआइ के टैलेंट सर्च अभियान में चयनित खिलाडिय़ों को सतत प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल किया जाएगा। इनका चयन एथलेटिक्स के सात तरह के इवेंट में होगा।

Prem Dutt BhattThu, 23 Sep 2021 04:00 PM (IST)
टोक्यो ओलिंपिक गेम्स में मेरठ की प्रियंका गोस्वामी के प्रदर्शन को मिली सराहना।

अमित तिवारी, मेरठ। टोक्यो ओलिंपिक गेम्स में मेरठ की अंतरराष्ट्रीय धावक प्रियंका गोस्वामी के प्रदर्शन को एथलेटिक्स फेडरेशन आफ इंडिया ने एक्सीलेंट यानी अति उत्कृष्ट माना है। इसी उत्कृष्ट प्रदर्शन को नई एथलीट्स की प्रेरणा बनाने के लिए एएफआइ इस साल टैलेंट सर्च अभियान चलाएगी। इस अभियान के प्राथमिक चरण में शामिल पांच राज्यों में उत्तर प्रदेश भी शामिल है। प्रदेश के अलावा केरल, कर्नाटक, हरियाणा और पंजाब को शामिल किया गया है।

चयनित खिलाडिय़ों को मिलेगा वैज्ञानिक पद्धति का प्रशिक्षण

एएफआइ के टैलेंट सर्च अभियान में चयनित खिलाडिय़ों को सतत प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल किया जाएगा। इनका चयन एथलेटिक्स के सात तरह के इवेंट में होगा। इनमें 400 मीटर की अलग-अलग दौड़ के अलावा लंबी कूद, ट्रिपल जंप, भाला फेंक, रेस वाकिंग, शाटपुट और डिस्कस थ्रो खेल होंगे। इन सभी खेलों के विशेषज्ञ स्वदेशी व विदेशी कोच नियुक्त होंगे जो इस योजना के तहत चयनित खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण देंगे। इनके प्रशिक्षण पद्धति में विशेष फोकस बायो मैकेनिक्स, न्यूट्रिशन वैल्यूज एवं साइको थेरेपी और इवेंट आधारित प्रशिक्षण पर रहेगा।

सीधे नेशनल में खेलेंगे खिलाड़ी

टैलेंट सर्च अभियानों में चयनित खिलाड़ी प्रशिक्षण के बाद विश्व के सबसे बड़े खेल कार्यक्रम 'नेशनल इंटर डिस्ट्रिक्ट एथलेटिक मीट' में शामिल होंगे। यह प्रतियोगिता देशभर के जिलों के बेहतरीन टैलेंट को राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन का अवसर देती है। इसी प्रतियोगिता से नीरज चोपड़ा और दुती चंद जैसे खिलाड़ी भी एएफआइ को मिले और खेल में नाम रोशन कर रहे हैं।

प्रियंका के प्रदर्शन की सराहना

एएफआइ बैठक का हिस्सा रहे उत्तर प्रदेश एथलेटिक एसोसिएशन के सचिव पीके श्रीवास्तव के अनुसार एएफआइ ने टोक्यो ओलिंपिक गेम्स में जाने वाले सभी एथलीट्स के प्रदर्शन की रिपोर्ट परखने के बाद 20 किमी पैदल चाल में हिस्सा लेने गईं प्रियंका गोस्वामी के प्रदर्शन को अति उत्कृष्ट माना है। प्रियंका के प्रदर्शन को उभरते खिलाडिय़ों के लिए प्रेरणास्रोत के तौर पर सामने रखा जा सकता है। हर साल सात अगस्त को 'भारतीय भाला फेंक दिवस' मनाया जाएगा और प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी।

मेरठ जिले की समिति गठित

भारतीय खेल प्राधिकरण के अंतर्गत एक जिला एक खेल के अंतर्गत मेरठ में एक्थलेटिक्स प्रशिक्षण केंद्र 'खेलो इंडिया सेंटर' स्वीकृति किया है। यह प्रशिक्षण केंद्र कैलाश प्रकाश स्पोट्र्स स्टेडियम में बनेगा। प्रशिक्षण केंद्र के संचालन के लिए एक प्रशिक्षक और खिलाड़ी चयनित किए जाएंगे। इस बाबत जिला समिति गठित की गई है। चयन समिति के अध्यक्ष मुख्य विकास अधिकारी शशांक चौधरी, सचिव क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी गदाधर बारीकी हैं। खेल विशेषज्ञ सदस्य के तौर पर उत्तर प्रदेश एथलेटिक्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि के तौर पर जिला एथलेटिक्स एसोसिएशन के सचिव अनु कुमार नामित किए गए हैं। इस समिति में साई के भी प्रतिनिधि शामिल होंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.