top menutop menutop menu

बिजलीघर पर भूल गए शारीरिक दूरी का पालन

जेएनएन, मेरठ। मुख्य बिजलीघर के बिल भुगतान काउंटर पर नियमों को ताक पर रखा जा रहा है। शारीरिक दूरी का बिल्कुल भी पालन नहीं किया जा रहा है। सुबह से बिल जमा करने वाले उपभोक्ताओं की पंक्ति लगती है, लेकिन उन्हें बिजली विभाग द्वारा दो गज की दूरी का नियम नहीं बताया जाता। नतीजन, प्रतिदिन कैश काउंटर पर भीड़ लग जाती है। इससे संक्रमण का खतरा बना हुआ है। सोमवार को बिजलीघर पर ही ऐसा ही नजारा देखने को मिला। कैश काउंटर पर गोल घेरे भी नहीं बनाए गए हैं। एसडीओ राकेश कुमार का कहना है कि पहले भी कई बार उपभोक्ताओं को इस बारे में बताया जा चुका है। कैश काउंटर पर कोरोना से बचाव के लिए नियमों का पालन करने की अपील भी की गई है। साप्ताहिक बंदी से बाजारों में तीसरे दिन भी रहा सन्नाटा

जेएनएन, मेरठ। दो दिन के पूर्ण लॉकडाउन के बाद सोमवार को शहर के अधिकतर इलाकों में साप्ताहिक बंदी से बाजारों में सन्नाटा छाया रहा। कोटला बाजार में सोमवार को साप्ताहिक बंदी होती है। शासन की दो दिन पूर्ण लॉकडाउन आगे भी जारी रखने की घोषणा के बाद कई व्यापारी दुकान खोलने पहुंच गए। साप्ताहिक बंदी होने की जानकारी पर लौट गए। आबूलेन, सदर बाजार, लालकुर्ती पैंठ बाजार, शहर सर्राफा, सदर बाजार, खैरनगर सेंट्रल मार्केट बंद रहा। सदर सब्जी मंडी में चहल पहल रही। दो दिन बाद मोहल्ले के बाजार खुलने से लोगों ने खरीदारी की।

उधर, सेंट्रल मार्केट व्यापार संघ के अध्यक्ष किशोर वाधवा ने बताया कि कई दुकानदारों ने कहा कि रोस्टर प्रणाली जारी रहेगी तो वह अपनी दुकानों की चाबियां प्रशासन को सौंपेंगे। किराए की रकम नहीं होने से कई बड़े शोरूम बंद हो रहे हैं। एक-एक दुकान का किराया 40-50 हजार रुपये है। महीने में आठ से 12 दिन खुलेगी तो किराया और अन्य खर्चे कहां से पूरे होंगे। पीएल शर्मा रोड व्यापार संगठन के महामंत्री शमशुद्दीन ने व्यापारियों के साथ वार्ता की। एसीएम सुनीता सिंह से फोन पर वार्ता कर व्यापारियों के आक्रोश से अवगत कराया। दोनों साइड का बाजार सप्ताह में पांच दिन खोले जाने की मांग की। इस दौरान नौशाद आलम, धर्मेंद्र प्रधान, विनोद चावला, असलम मौजूद रहे।

सप्ताह में पांच दिन खुले नवीन मंडी

नवीन मंडी के व्यापारियों ने कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल को सप्ताह पांच दिन व्यापार करने की अनुमति दिए जाने की मांग को लेकर ज्ञापन दिया। महामंत्री नौशाद कुरैशी ने कहा कि वर्तमान व्यवस्था में दो दिन फल मंडी खुलेगी। इससे व्यापारियों का भारी नुकसान होगा। सब्जी मंडी के व्यापारियों ने भी सिटी मजिस्ट्रेट और मंडी सचिव को ज्ञापन दिया। भूषण शर्मा ने बताया कि सब्जी मंडी रात में आठ बजे से सुबह चार बजे तक उसके बाद सुबह पांच बजे से फल मंडी और 10 बजे अनाज मंडी खोले जाने की मांग की है। अधिकारियों ने जल्द नई व्यवस्था लागू करने का आश्वासन दिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.