अपर आयुक्त ने पढ़ाया, मंडलायुक्त ने पूछा कैसी चल रही पढ़ाई

अपर आयुक्त ने पढ़ाया, मंडलायुक्त ने पूछा कैसी चल रही पढ़ाई

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत संचालित आइएएस-पीसीएस के कोचिग सेंटर मेरठ कालेज में बुधवार को अपर आयुक्त आइएएस मेधा रूपम ने अभ्यर्थियों को पढ़ाया।

JagranThu, 25 Feb 2021 05:30 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत संचालित आइएएस-पीसीएस के कोचिग सेंटर मेरठ कालेज में बुधवार को अपर आयुक्त आइएएस मेधा रूपम ने अभ्यर्थियों को पढ़ाया। वहीं मंडलायुक्त अनिता सी. मेश्राम और सीडीओ शशांक चौधरी ने केंद्र का निरीक्षण किया। 2014 बैच में 10वीं रैंक के साथ आइएएस परीक्षा में चयनित हुई मेधा रूपम ने लगातार तीन घंटे 20 मिनट की क्लास ली।मेरठ कालेज में संचालित तीनों कक्षाओं में उन्होंने विद्यार्थियों को हड़प्पा सभ्यता पर एक एक घंटे की तीन क्लास ली। साथ ही विद्यार्थियों को मोटिवेशन लेक्चर के रूप में एजुकेशन पालिसी, राइटिग मेथड, निबंध लिखने का तरीका, पेपर रीडिग के तरीके, आर्टिकल तथा मैगजीन आदि के अध्ययन करने के बारे में विस्तार से बताया।

उदाहरण देकर समझाए बिदु

अपर आयुक्त मेधा रूपम ने बताया की राइटिग स्पीड प्रैक्टिकली किस प्रकार से होनी चाहिए। टाइम मैनेजमेंट एक बहुत महत्वपूर्ण बिदु है। निबंध की डिजाइनिग किस प्रकार से करें। उसके लिए एक केरल के उदाहरण के साथ बताया कि वहां पर एक एरिया दूसरे एरिया से लिक न होने पर एक महिला की मृत्यु डिलीवरी के दौरान समय से चिकित्सा न मिलने पर हो गई थी। उस समय के जिलाधिकारी ने अपने प्रयास से उन दोनों को तकनीकी संसाधनों का प्रयोग करते हुए जोड़ा। इस प्रकार तकनीकी का प्रयोग आपको भी करना है। विद्यार्थियों को कंटेंट पर अधिक जोर देने, सी-सेट की तैयारी, करंट अफेयर की तैयारी के लिए क्या-क्या चीज चाहिए, के बारे में बताया। सर्वाधिक जोर टाइम मैनेजमेंट पर डाला। अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए किन-किन चीजों की भूमिका होती है, यह भी बताया। इंटरव्यू के बारे में समझाने के लिए अलग से लेक्चर देने की बात कही।

फीडबैक में मांगे प्रश्न, मिलेंगे उत्तर

छात्र-छात्राओं के उत्साह को देखते हुए अपर आयुक्त ने तीनों क्लासों में एक-एक घंटा पढ़ाने का निर्णय लिया। यह भी आश्वासन दिया कि वह समय-समय पर क्लास लेती रहेंगी। उन्होंने फीडबैक के रुप में छात्रों से उनके प्रश्न उपलब्ध कराने को कहा जिससे अगली क्लास में उन प्रश्नों के उत्तर दिए जा सकें। बुधवार को भी क्लास में चार चार छात्र-छात्राओं के प्रश्नों के उत्तर दिए।

मंडलायुक्त ने क्लास पर लिया फीडबैक

मंडलायुकत अनिता सी. मेश्राम ने केंद्र का निरीक्षण कर छात्र-छात्राओं से पठन-पाठन पर फीडबैक लिया। पहले सिविल सेवा परीक्षा दे चुके और अन्य कोचिग में पए़ चुके छात्रों से अभ्युदय की पढ़ाई के बारे में भी उनके अनुभव जाना। मंडलायुक्त ने क्लास संचालन से संबंधित सभी खामियों को भी जल्द दुरुस्त करने का आश्वासन दिया।

क्लास में बढ़ी छात्र संख्या बुधवार को अभ्युदय की आनलाइन व आफलाइन क्लास में 582 छात्र-छात्राओं ने पढ़ाई की। इनमें 275 आफलाइन रहे जिनमें64 मेरठ के अलावा अन्य जिलों के छात्र थे। वहीं 307 ने आनलाइन क्लास ली। आफलाइन क्लास में मेरठ कालेज में 195, एसडी सदर में 27 और जीआइसी के नीट में 39 और जेईई में 14 छात्र उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.