top menutop menutop menu

हादसा: फैक्ट्री में बॉयलर फटने से महिला की मौत Shamli News

शामली, जेएनएन। थाना क्षेत्र के गांव अट्टा के जंगल में टायर गलाने की फैक्ट्री में बॉयलर फटने से एक महिला की मौत हो गई। महिला सहित दो लोग घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ के लिए चौकीदार को हिरासत में लिया है। पुलिस अभी यह पता नहीं लगा सकी है कि फैक्ट्री वैध थी या अवैध। अभी मुकदमा भी दर्ज नहीं हुआ है।

गांव भभीसा निवासी पूर्व प्रधान सुरेश ने गांव अट्टा के जंगल में टायर गलाने की फैक्ट्री लगा रखी है। राजस्थान का ठेकेदार मंजूर भी फैक्ट्री में ही रहता है। गुरुवार को मजदूर फैक्ट्री में कार्य कर रहे थे। दोपहर बाद अचानक बॉयलर धमाके के साथ फट गया। वहां मौजूद महिला संगीता, शर्मिला निवासी गांव पीलिया खदान जिला झाबुआ मध्य प्रदेश व ठेकेदार मंजूर निवासी पोखरण राजस्थान घायल हो गए। धमाका इतना तेज था कि बॉयलर का ढक्कन दीवार तोड़कर करीब तीस मीटर दूर ईंख के खेत में जा गिरा। अफरा-तफरा मच गई। फैक्ट्री मालिक सुरेश कुमार व थाना प्रभारी कर्मवीर सिंह भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके पर मौजूद दो महिलाओं से मामले के जानकारी ली। घायलों को उपचार के लिए मेरठ के एसडीएस ग्लोबल अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस के मुताबिक शाम को हादसे में घायल शर्मिला की मौत हो गई। बताया जाता है कि जिस वक्त बॉयलर फटा उस वक्त वहां पर सात-आठ लोग काम कर रहे थे।

फैक्ट्री में घरेलू गैस सिलेंडर का हो रहा था प्रयोग

बताया जा रहा है कि फैक्ट्री में घरेलू गैस सिलेंडर भी प्रयोग में लाए जा रहे थे। अगर सिलेंडर फट गए होते तो हादसा और बड़ा हो सकता था। पुलिस ने पूछताछ के लिए चौकीदार लाला को हिरासत में ले लिया। फैक्ट्री मालिक से बात करने का प्रयास किया गया, लेकिन उसका मोबाइल बंद मिला। थाना प्रभारी कर्मवीर सिंह ने बताया कि तमाम बिंदुओं पर जांच की जा रही है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.