सात घंटे में जुटाए 15 लाख, 30 सेकंड में ले गए बदमाश

बदमाशों के सामने पुलिस के सारे इंतजाम फेल साबित हो रहे हैं।

JagranTue, 27 Jul 2021 08:15 AM (IST)
सात घंटे में जुटाए 15 लाख, 30 सेकंड में ले गए बदमाश

मेरठ,जेएनएन। बदमाशों के सामने पुलिस के सारे इंतजाम फेल साबित हो रहे हैं। बदमाश जब चाहें, जहां चाहें वारदात को अंजाम दे रहे हैं। पुलिस चौकी के पास भी लोग सुरक्षित नहीं रहे। सोमवार को बाइक सवार चार बदमाशों ने दिनदहाड़े 30 सेकंड में 15 लाख की रकम लूट ली। कारोबारी ने चार कस्बों के 20 दुकानदारों से सात घटे में यह रकम उठाई थी। बदमाशों ने कारोबारी को दोनों तरफ से घेरा। एक बाइक दाई ओर और दूसरे बाई ओर लगा दी। ड्राइविंग सीट की तरफ से दरवाजा बंद था। बदमाशों ने बाहर से ही कारोबारी पर पिस्टल तान दी। दूसरी तरफ का दरवाजा खुला होने पर एक बदमाश कार के अंदर घुस गया और कारोबारी की कनपटी पर पिस्टल लगाकर जान से मारने की धमकी दी। इस दरवाजे से कारोबारी का एकाउंटेंट उतरकर दुकानदार के पास रकम लेने गया था। इसीलिए यह दरवाजा लाक नहीं था। पुलिस इस दुकानदार से भी पूछताछ कर रही है। साथ ही उन 20 व्यापारियों से भी पूछताछ की जा रही है, जिनसे रकम वसूलकर कारोबारी लौट रहे थे। पुलिस मान रही है कि पुख्ता जानकारी के बाद ही लूट की वारदात हुई है।

दरवाजा बंद होता तो बच जाती रकम

एकाउंटेंट के उतरते ही यदि कारोबारी दरवाजे को लाक कर लेते तो शायद बदमाश लूट में असफल रह जाते। बदमाश ने कार में घुसते ही अमित अग्रवाल की कनपटी पर पिस्टल लगा दी। वह बोला, आवाज निकाली तो गोली मार दूंगा। इससे कारोबारी सहम गए और बदमाश नकदी से भरा बैग कार से उठाकर फरार हो गए। माना जा रहा है कि बदमाश हसनपुर से कारोबारी का पीछा कर रहे थे। वे हसनपुर के बाद सिसौली में साथ-साथ चल रहे थे। छोटा हसनपुर आने के बाद ही वारदात को अंजाम दिया।

सात साल पहले भी साढ़े छह लाख लुट गए थे

नवीन मंडी में तेल और घी के बड़े कारोबारी अमित अग्रवाल ने बताया कि सात साल पहले भी किठौर के सोलदा में उनसे बाइक सवार बदमाशों ने साढ़े छह लाख की नकदी लूट ली थी। पुलिस ने घटना का पर्दाफाश कर दिया था, लेकिन लूटी गई रकम नहीं मिल पाई थी। तब से ही कारोबारी अपने साथ एकाउंटेंट को लेकर चलने लगे थे। बाइक पर आना-जाना बंद कर दिया था। पहले रविवार को दुकानदारों से रकम उठाई जाती थी। अब सोमवार का दिन तय कर दिया था।

कैंट विधायक के पड़ोसी हैं अमित अग्रवाल

अमित अग्रवाल हंड्रेड महावीरजी नगर कालोनी में कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल के पड़ोसी हैं। विधायक ने पुलिस अधिकारियों को वारदात का जल्द पर्दाफाश करने को कहा है।

बदमाशों के सामने पुलिस की शहर बार्डर स्कीम हुई फेल: लूट और चोरी की वारदातों को रोकने के लिए कप्तान ने बार्डर स्कीम का एक्शन प्लान जारी किया था। इसके तहत जनपद और शहर के बार्डर सील कर दिए जाते हैं। सभी चेकिंग प्वाइंट पर पुलिस मुस्तैद रहती है। कारोबारी अमित अग्रवाल से हुई लूट की घटना में बदमाशों के काफी दूरी निकलने के बाद पुलिस ने शहर और देहात की सीमा सील कर चेकिंग शुरू की। यानी चेकिंग करने में पुलिस ने घटों का समय लगा दिया। लूटपाट के बाद बदमाश देहात से शहर की तरफ ही भागे थे। कुछ दूरी तक बदमाशों को कारोबारी ने जाते हुए देखा भी। बता दें कि लूटपाट की घटनाओं को रोकने के लिए एसएसपी ने ये चेकिंग प्वाइंट बनवाए हैं।

ये है चेकिंग का आधार :

24 प्वाइंट जोनल चेकिंग

09 प्वाइंट शहर के बार्डर की चेकिंग

09 प्वाइंट जनपद के बार्डर की चेकिंग

14 पुलिस पिकेट पर चेकिंग

08 स्थानों पर बैरियर चेकिंग किठौर तक खंगाले सीसीटीवी कैमरे

पुलिस की टीम ने बदमाशों की धरपकड़ को हसनपुर से लेकर किठौर तक सीसीटीवी कैमरे खंगाले हैं। कुछ कैमरों में बदमाशों की फुटेज मिली है। सभी के चेहरे ढके रहने की वजह से अभी पहचान नहीं हो सकी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.