उज्ज्वला दिवस पर दिखेगी मातृशक्ति की शक्ति

जागरण संवाददाता, मऊ : देश के 100 प्रतिशत घरों में एलपीजी कनेक्शन देने के लिए भारत सरकार

JagranThu, 12 Apr 2018 10:32 PM (IST)
उज्ज्वला दिवस पर दिखेगी मातृशक्ति की शक्ति

जागरण संवाददाता, मऊ : देश के 100 प्रतिशत घरों में एलपीजी कनेक्शन देने के लिए भारत सरकार ने हाल ही उज्ज्वला योजना में विस्तार किया है। इस योजना में जल्द ही सात नयी कैटेगरी के लोगों को शामिल किया गया है। इनमें एससी-एसटी, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास के पात्र, अंत्योदय, आदिवासी, नदी-वनवासी, मोस्ट बैकवर्ड कास्ट, चाय बागानों में काम करने वाले जनजाति के लोगों को जोड़ा गया है। उज्ज्वला योजना के बाद मऊ के 67 फीसदी घरों में एलपीजी कनेक्शन हो चुका है। पेट्रोलियम मंत्रालय और ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार की पहल पर 20 अप्रैल को जिले के 18 गांवों में उज्ज्वला दिवस मनाने की तैयारी की गई है।

ये बातें प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के सहायक प्रबंधक नोडल अधिकारी करतार ¨सह ने शहर के एक निजी सभागार में पत्रकार वार्ता के दौरान कहीं। बताया कि जिले के 18 घरेलू गैस वितरकों को संबंधित जिम्मेदारियां सौंप दी गई हैं। कहा कि इस आयोजन में ग्रामीण विकास मंत्रालय की सहभागिता होगी। स्वराज अभियान के लिए जिले के 55 गांव, 14430 घर के तहत 93 हजार लोगों को चयनित किया गया है। ¨सह ने कहा कि मऊ में एलपीजी के लिए सोशियो इकनामिक कास्ट सेंसस की सूची के अनुसार कुल 1.22 लाख लोग सूचीबद्ध थे। जिसमें अधिकांश ने जरूरत के हिसाब से गैस ले लिया। 70 हजार 113 आवेदन आए जिसमें से उज्ज्वला योजना के तहत 53308 को कनेक्शन दिया जा चुका है। अब नहीं कटेगी उज्ज्वला की सब्सिडी

पहले उज्ज्वला योजना के तहत प्राप्त सिलेंडर रीफिल कराने पर पहले महीने से ही मिलने वाली सब्सिडी काटी जा रही थी, लेकिन नये आदेश के तहत अब ऐसा नहीं होगा। नये आदेश के मुताबिक चाहे प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत पैसे जमा करके या लोन पर कनेक्शन लिया गया हो, किसी भी दशा में छह बार तक सिलेंडर लेने पर सब्सिडी उपभोक्ता खाते में चली जाएगी। अब सातवीं बार गैस भराने पर सब्सिडी से लोन का पैसा धीरे-धीरे काटा जाएगा। यह योजना के नोडल अधिकारी करतार ¨सह ने दी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.